ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर जिले के कांग्रेस विधायकों ने जिला प्रशासन पर सौतेलेपन के आरोप लगाते हुए उनके विधानसभा क्षेत्रों के विकास को अवरुद्ध करने के आरोप लगाए हैं। जिला अध्यक्ष एवं अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों की मौजूदगी में विधायक प्रवीण पाठक (MLA Praveen Pathak) एवं विधायक डॉ सतीश सिंह सिकरवार (MLA Dr Satish Singh Sikarwar)  ने कहा कि ग्वालियर जिला प्रशासन द्वारा जिस प्रकार से भाजपा की कठपुतली बनकर कार्य किया जा रहा है वो शर्मनाक है।

विधायक प्रवीण पाठक (MLA Praveen Pathak) और विधायक डॉ सतीश सिंह सिकरवार (MLA Dr Satish Singh Sikarwar) ने कहा कि  हमारे ही प्रदेश के भोपाल और इंदौर विकास में कितने आगे निकल गए हैं क्योंकि वहां स्थानीय प्रशासन भेदभाव नहीं करता लेकिन ग्वालियर में जो हो रहा है सब दिखाई दे रहा है। तो क्या ग्वालियर में पैदा होना अभिशाप है?

ये भी पढ़ें – Indore News: दिग्विजय सिंह ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा भाजपा सरकार नहीं चलाती बल्कि व्यवसाय करती है

विधायक प्रवीण पाठक (MLA Praveen Pathak) ने मीडिया से कहा कि  ग्वालियर के विकास की जितनी जिम्मेदारी जनप्रतिनिधियों की ही उतनी ही जिम्मेदारी चौथे स्तम्भ यानि मीडिया की भी है।  हम सबको मिलकर ही ग्वालियर के विकास के पहिये की थमी गति को पटरी पर लाना होगा।  उन्होंने कहा कि जिस तरह से विकास कार्यों की प्लानिंग हो रही है, करोड़ों रुपया पानी की तरह बहाया जा रहा है वो कहीं दिखाई नहीं दे रहा। राशि सही जगह खर्च हो। रोड मैप ऐसा बने कि जो राशि खर्च हो वो  दिखाई दे। अधिकारियों की तानाशाही को बंद होनी चहिये।

विधायक प्रवीण पाठक ने (MLA Praveen Pathak) कहा कि हम बहुत बार कह चुके, निवेदन कर चुके, एक बार फिर मैं अपने साथी विधायक डॉ सतीश सिकरवार और जिला अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा के साथ मिलकर प्रशासन से भेदभाव नहीं करने का अनुरोध करेंगे। ग्वालियर दक्षिण विधानसभा के साथ जो सौतेलेपन का व्यवहार किया जा रहा है वो अब बर्दाश्त नहीं होगा। उन्होंने चेतावनी दी कि  “याचना नहीं अब रण होगा”