प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा पहुंचे मंत्री सिलावट के घर, क्यों कहा- ग्वालियर में महाराज भी है!

ऐसे में गृहमंत्री से उन्होंने उम्मीद जताई है कि जल्द सरकार उन्हें काम पर लेगी और उन्हें स्थायी भी किया जाएगा।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। दो दिवसीय प्रवास पर इंदौर पहुंचे मध्यप्रदेश के गृहमंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट के इंदौर स्थित निवास पर पहुंचे। यहां मंत्री सिलावट ने उसका स्वागत किया और अपने हर कार्यकर्ता और पूरी टीम से मंत्री नरोत्तम मिश्रा को मिलवाया। वही इस दौरान अस्थायी आयुष डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टॉफ स्थायीकरण की मांग को मंत्री नरोत्तम मिश्रा से मिला। इसके बाद गृहमंत्री सीधे प्रशासनिक संकुल की ओर रवाना हो गए जहां वो कोविड – 19 समीक्षा बैठक ले रहे है।

दरअसल, गृहमंत्री और इंदौर के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा दो दिवसीय दौरे के दौरान सबसे पहले रेसीडेंसी में बीजेपी कार्यकर्ताओं से मिले इसके बाद वो मंत्री तुलसी सिलावट के निवास पर पहुंचे। जहां मंत्री सिलावट ने उनके खास समथर्क और कार्यकर्ताओं की गृहमंत्री से मुलाकात करवाई। वही 30 जून से नौकरी से निकाले गए आयुष डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टॉफ ने भी मंत्री सिलावट के घर के समीप गृहमंत्री मिश्रा से मुलाकात कर अपनी परेशानियां बताई और उन्हें दोबारा काम पर लेकर स्थायी करने की मांग की।

Read More: EPF: कोरोना सहित गंभीर खतरनाक बीमारी होने पर 24 घंटे में मिलेंगे 1 लाख रुपए, सर्कुलर जारी

पैरामेडिकल स्टॉफ के प्रयास ने बताया कि उन्होंने गृहमंत्री से आग्रह किया है कि कोविड की तीसरी लहर की आशंका बनी हुई है और देश के पीएम नरेंद्र मोदी के 100 दिवसीय और प्रदेश के सीएम शिवराजसिंह चौहान के निर्देश के मुताबिक करीब 210 लोग कोविड की दूसरी लहर में कार्य कर अहर्ता पूरी कर चुके है बावजूद इसके उन्हें सेवा से हटा दिया गया है ऐसे में गृहमंत्री से उन्होंने उम्मीद जताई है कि जल्द सरकार उन्हें काम पर लेगी और उन्हें स्थायी भी किया जाएगा।

इधर, कलेक्टर कार्यालय में बैठक के पहले मीडिया से चर्चा करते हुए सवालों के जबाव भी दिए मीडिया ने जब उनसे पूछा कि आप मंत्री सिलावट के क्षेत्र के प्रभारी मंत्री है और मंत्री सिलावट आपके क्षेत्र के तब गृहमंत्री ने कहा कि मंत्री सिलावट ग्वालियर के प्रभारी मंत्री है और मेरा क्षेत्र दतिया है। इसके बाद जब मीडिया ने कहा कि हम पूरे ग्वालियर चंबल क्षेत्र की बात कर रहे है तो तपाक से गृहमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश अपना है।

इसके बाद मौके ठहाको की गूंज सुनाई देने लगी। वही मंत्री सिलावट ने कहा हम दोनों एक है। इसके बाद सवाल उठा कि क्या ग्वालियर में विकास की गंगा बहेगी तो गृहमंत्री ने कहा कि ग्वालियर में विकास की गंगा बहेगी। वहां महाराज भी तो है। फिलहाल, इंदौर के नवागत प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा की महत्वपूर्ण बैठकों का दौर शुरू हो चुका है लेकिन इसके पहले उन्होंने आयुष डॉक्टरों को ये आश्वस्त किया है कि उनकी मांगें सीएम शिवराज तक पहुंचाई जाएगी।

प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा पहुंचे मंत्री सिलावट के घर, क्यों कहा- ग्वालियर में महाराज भी है! from MP Breaking News on Vimeo.