Indore Corona: दूसरी लहर भयानक, दोबारा संक्रमित हो रहे लोग, बनाएं गए माइक्रो कन्टेंटमेंट जोन

शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए, कलेक्टर मनीष सिंह ने आठ क्षेत्रो में कंटेन्मेंट जोन बनाये है। जिसमे सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र विजय नगर, सुखलिया, सुदामा नगर, नंदानगर, खजराना, राजेन्द्र नगर, स्कीम नंबर 78 व महालक्ष्मी नगर शामिल है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश के इंदौर में कोरोना बेकाबू हो चला है। सरकारी आंकड़ो की माने तो वो दिन दूर नही जब इंदौर में हर रोज 1 हजार से संक्रमित मरीज सामने आ सकते है। फिलहाल, इंदौर में मंगलवार को रिकॉर्ड 866 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है। वही 4 लोगो ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया है जिसके बाद मरने वालों का आंकड़ा भी हजार के पहुंच गया है। बता दे कि इंदौर में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 981 तक जा पहुंची है।

वही अस्पतालों और होम आइसोलेट होकर इलाज करा रहे कोविड पेशेंट की संख्या 6281 तक जा पहुंची है। हालांकि, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की माने तो इंदौर में करीब 30 प्रतिशत एक्टिव मरीज अन्य जिलों व संभागों के है जिसके चलते बेड ऑक्यूपेंसी पर असर पड़ा है। इधर, चौंकाने वाली बात ये भी सामने आ रही है कि 2 बार वैक्सीनेशन कराने के बाद और जिनको पहले कोरोना हो चुका था। उन्हें दोबारा कोरोना ने अपनी गिरफ्त में लेकर बीमार कर दिया है।

इस संबंध में कोविड के नोडल अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने बताया कि इंदौर में जीनोम सिक्वेंसिंग कराने के लिए राज्य शासन से निर्देश प्राप्त हुए थे और उसी के तारतम्य में ऐसे लोग जो 100 दिन के बाद दोबारा पॉजिटिव हो रहे है। उन लोगो के सैम्पल के साथ ऐसे लोगो के सैम्पल भी लिए गए है। जो टीकाकरण के दूसरे दौर का टीका लगवा चुके है। ऐसे सभी लोगो के जीनोम सैम्पल जांच के लिए एनसीडीसी दिल्ली भेजे गए है। वही उन्होंने बताया कि 29 ऐसे लोगो को चिह्नित किया गया है जो बाद में दोबारा पॉजिटिव पाए गए है।

Read More: दिग्विजय सिंह का सीएम शिवराज पर बड़ा हमला- वो तो हमारे कांग्रेसी विधायक बिक गए वर्ना..

इधर, इंदौर में बेतरतीब आंकड़ो के बीच अब प्रशासनिक कार्यालयों पर कोरोना ने दस्तक देना शुरू कर दी है जहां फ्रंट लाइन पर काम करने वाले 50 से ज्यादा पुलिसकर्मी व अधिकारियों के पॉजिटिव होने की बात सामने आई है वही ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इंदौर-विकास प्राधिकरण के दस कर्मचारी और अधिकारी कोरोना संक्रमित पाए गए है। वही इंदौर विकास प्राधिकरण के सीईओ विवेक श्रोत्रिय ने बताया कि वैक्सीनेशन के कारण सभी में कोरोना के कम लक्षण पाए गए है और सभी फिलहाल होम आइसोलेशन में है और सभी का स्वास्थ्य नियंत्रण में है।

माइक्रो कंटेन्मेंट जोन की सूची भी जारी

शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए, कलेक्टर मनीष सिंह ने आठ क्षेत्रो में कंटेन्मेंट जोन बनाये है। जिसमे सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र विजय नगर, सुखलिया, सुदामा नगर, नंदानगर, खजराना, राजेन्द्र नगर, स्कीम नंबर 78 व महालक्ष्मी नगर शामिल है। इन क्षेत्रों को एपीसेंटर घोषित करते हुए, यहां माइक्रो कंटेन्मेंट एरिया बनाये गए है। इन क्षेत्रों में संक्रमित व्यक्ति के आस पास रहने वालों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की जाएगी। सभी क्षेत्रों के लिए अधिकारियो की भी जिम्मेदारी तय कर दी हैं। कॉन्टेनमेंट एरिया में सामान्य लोगो की आवाजाही नही होगी।

Indore Corona: दूसरी लहर भयानक, दोबारा संक्रमित हो रहे लोग, बनाएं गए माइक्रो कन्टेंटमेंट जोन