कमल नाथ का शिवराज सरकार पर निशाना, ममता बनर्जी को बुलाएंगे इंदौर

मैंने में भी ममता जी से कहा कि हिंसा से आप सबको कहिये कि दूर रहे और आज ममता जी हमारे देश की नेता है। तीसरी दफा मुख्यमंत्री बनी है और ऐसे मुकाबले के बाद सीएम बनी है, ऐसा चुनाव हमारे देश मे पहले कभी नही हुआ जिस प्रकार का चुनाव बंगाल में हुआ है

इंदौर, आकाश धौलपुरे। छिंदवाड़ा से इंदौर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ (Kamal Nath) ने विमानतल (Airport) पर मीडिया से बात कर मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Government) पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इंदौर के हनुमान मंदिर में मैंने प्रार्थना की है कि और वर्तमान में पूरा प्रदेश और देश सरकार भरोसे नही बल्कि भगवान भरोसे है। कमल नाथ (Kamal Nath) ने  दमोह (Damoh) जीत पर कहा कि दमोह की जनता ने कांग्रेस (Congress) का साथ दिया। कमलनाथ (Kamal Nath) का बाद में दिया लेकिन वहां की जनता ने सच्चाई का सबसे पहले साथ दिया।  कमल नाथ ने ये भी बताया कि मेरी ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से बात हुई थी वो मेरी बहुत पुरानी साथी है और मैंने उन्हें मध्यप्रदेश आमंत्रित किया है।

कमल नाथ (Kamal Nath)  प्रदेश के सबसे बड़े शहर इंदौर में कोरोना (Corona) से हर रोज कितनी मौते हो रही है ये दबाने और छिपाने की राजनीति से (Corona) जाने वाला नही है। उन्होंने कहा कि 10 से 15 प्रतिशत टेस्टिंग हो रही है चार दिन बाद रिपोर्ट आ रही है इतने दिन में संक्रमित में न जाने कितने लोगों को कोरोना दे दिया ये भी चिंता की बात है। उन्होंने बताया कि अस्पताल, एम्बुलेंस, ऑक्सीजन, इंजेक्शन, मेडिसीन और डॉक्टर के लिए लाइन लगी है। जबकि ये सब बातें 3 माह पहले देश और विदेश का समूचा मीडिया बता रहा था कि दूसरी वेव आने वाली है। जिसके लिए कोई प्रबंध नहीं किया गया। मार्च तक तो ऑक्सीजन एक्सपोर्ट की जा रही थी। उन्होने कहा कि जनवरी से लेकर मार्च तक पिछले साल की तुलना में केंद्र ने 340 प्रतिशत अतिरिक्त ऑक्सीजन एक्सपोर्ट कर दी वही रेमडेसिवीर  इंजेक्शन एक्सपोर्ट हो रहा था ये तो हालात है।

ये भी पढ़ें – सीएम शिवराज सिंह चौहान बोले- वैक्सीन के बाद भी लापरवाही नहीं, प्लाज्मा डोनेट करें

कमलनाथ (Kamal Nath)ने आरोप लगाया कि आज इंदौर सबसे बड़ा अस्पताल एमवाय बन्द पड़ा है और इंदौर और भोपाल में कोई चिंता किसी को नहीं है और वैक्सीन लगाने की बात हो रही है। मैं तो पूछ रहा हूँ कि कितनी वैक्सीन लग रही है आंकड़ो को सार्वजनिक किया जाए। वैक्सीन है नहीं बस वैक्सीन की घोषणा कर दी और केंद्र ने 18 साल के युवाओं  की घोषणा इसलिए कि क्योंकि चुनाव चल रहे थे और 18 से ज्यादा उम्र वालों को केंद्र की समेटने की राजनीति थी। कमल नाथ (Kamal Nath) ने कहा कि कलाकारी की राजनीति बहुत हो गई और मैं प्रदेश की जनता से अपील करता हूँ ये जो सच्चाई है कि आज हमारा किसान, नौजवान और छोटे छोटे व्यापारी तरस रहे है ये सब सच्चाओ पहचानिए, सच्चाई अपनाइये और सच्चाई का साथ दीजिये।

कमल नाथ (Kamal Nath) ने प्रदेश में कोरोना से होने वाली मौतों का जिम्मेदार सरकार को बताया और कहा कि केंद्र में बीजेपी की सरकार प्रदेश में बीजेपी की सरकार ऐसे में आम जनता को तो दोषी नहीं माना जा सकता है। आज दोषी राज्य और केंद्र सरकार है जिन्होंने लाशों पर राजनीति की है इनको जनता की चिंता नहीं है। वहीँ उन्होंने कहा जहां मुझसे हो रहा संबंधों के आधार पर वहाँ मैं प्रदेश की जनता की सेवा करने का प्रयास कर रहा हूँ। बड़ी बड़ी कंपनियों से मैंने इंजेक्शन और ऑक्सीजन के कोटा बढ़ाने की बात की है।

ये भी पढ़ें – संक्रमण के नियंत्रण पर फोकस, शिवराज सिंह चौहान ने प्रभारी मंत्रियों को सौंपी ये बड़ी जिम्मेदारी

कमल नाथ (Kamal Nath) ने आरोप लगाया कि प्रशासन भी राजनीति कर रहा है और रेमडेसिवीर  इंजेक्शन को भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं को बांटा जा रहा है जो ब्लैक में बेच रहे है ये भी उन्होने व्यापार बना लिया ये हालत हो गई है ये बात मीडिया सहित किसी से छिपी नही है। हालांकि उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय मीडिया सब दिखा रहा है लेकिन हमारे देश का मीडिया जनता के साथ नहीं खड़ा है  मुझे दुःख है ।

ममता बनर्जी को इंदौर बुलाएंगे कमल नाथ

दमोह जीत को लेकर कमल नाथ (Kamal Nath) ने कहा कि दमोह की जनता ने कांग्रेस का साथ दिया।  कमलनाथ का बाद में दिया लेकिन वहां की जनता से सच्चाई का सबसे पहले साथ दिया।  कमल नाथ ने बताया कि मेरी ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से परसों बात हुई थी वो मेरी बहुत पुरानी साथी है और मैंने उन्हें मध्यप्रदेश में आमंत्रित किया है। वो हमारी यूपीए की सदस्य है। मैंने आमंत्रित किया है क्योंकि किस प्रकार ममता बनर्जी को पूरी केंद्र सरकार से लड़ना पड़ा, मोदी से लड़ना पड़ा, उनके मंत्रियों, विधायकों से लड़ना पड़ा। सीबीआई, ईडी, इन्कम टैक्स विभाग से लड़ना पड़ा और बावजूद इसके उन्होंने सबको वहां से  भगाया है।

पीसीसी चीफ कमल नाथ (Kamal Nath) ने बताया कि मैंने में भी ममता जी से कहा कि हिंसा से आप सबको कहिये कि दूर रहे और आज ममता जी हमारे देश की नेता है। तीसरी दफा मुख्यमंत्री बनी है और ऐसे मुकाबले के बाद सीएम बनी है, ऐसा चुनाव हमारे देश मे पहले कभी नही हुआ जिस प्रकार का चुनाव बंगाल में हुआ है। वही उन्होंने ममता बनर्जी भूमिका को लेकर कहा कि उनकी जिम्मेदारी यूपीए तय करेगा लेकिन मैं जरूर ममता जी को इंदौर भी आमंत्रित करूंगा।