खरगोन : कोरोना कर्फ्यू में पुलिस प्रशासन की भूमिका सराहनीय, सख्ती से कराया जा रहा नियमों का पालन

खरगोन जिले में पुलिस प्रशासन द्वारा कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। जहां अब तक पुलिस ने करीब एक लाख का जुर्माना वसूल कर लिया है।

खरगोन, बाबूलाल सारंग। जिले में कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) के दौरान नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस प्रशासन सख्त होता दिखाई पड़ रहा है। जहां बड़वाह तहसील में थाना प्रभारी संजय द्विवेदी के मार्गदर्शन में बेवजह सड़कों पर घूम रहे लोगों पर चलानी कार्रवाई जा रही है। कोरोना कर्फ्यू को लगे हुए एक माह से अधिक समय हो गया है। इस दौरान पुलिस ने नियमों का उल्लंघन करने वालों से 99 हजार 750 रुपए जुर्माना वसूला है। तो वहीं नियम तोड़ने के चलते 331 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं विवाह में अनुमति नहीं लेने पर एक के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़ें:-देवास : कोरोना कर्फ्यू के दौरान बाहर घूम रहे लोगों की सैंपलिंग कर रही पुलिस, अब तक मिले दो पॉजिटिव

नगर में कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की रोकथाम के लिए शासन द्वारा लागू किए गए कोरोना कर्फ्यू का पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सख्ती से पालन कराया जा रहा है। जिले के हर चौक-चौराहों के साथ ही गली मोहल्लों में भी अधिकारी पहुंच रहे हैं। कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते प्रकोप के चलते अब प्रशासन द्वारा सख्त रुख अपनाया जा रहा है। अधिकारियों ने अधिनस्थों को इस संबंध में कार्रवाई में तेजी लाने को भी कहा है। शनिवार को पुलिस ने बाजारों में भ्रमण कर प्रतिष्ठानों को बंद कराया। गलियों में बेवजह घूमते मिले लोगों को डांट फटकार घर के अंदर किया और जरूरी कार्यों से ही मास्क लगाकर घरों से बाहर निकलने की हिदायत दी। पुलिसकर्मियों ने अपने-अपने क्षेत्रों में अभियान चलाकर वेवजह घरों से बाहर घूमने वाले लोगों को चिन्हित किया और उनके चालान काटे। इसके लिए थाना प्रभारी द्वारा अलग-अलग टीम भी बनाई गई है, जो पेट्रोलिंग करके कार्रवाई कर रही है।

ठेले व्यापारी उड़ा रहे नियमों की धज्जियां
थाना प्रभारी संजय द्विवेदी ने बताया कि दोपहर चार बजे नर्मदा रोड पर एक सब्जी व्यापारी ऑटो में सब्जियां रख कर बैच रहा था। उसे पुलिस टीम ने पकड़ कर कार्रवाई की। उन्होंने बताया कि सब्जियां एवं फल-फ्रूट व्यापारियों को सुबह 6 से दोपहर 12 बजे तक छुट दी गई है। इसके बावजूद भी ठेले वाले दोपहर से शाम तक ठेले लेकर जगह-जगह खड़े रहते है, यहां भीड़ एकत्रित होती है। थाना प्रभारी ने बताया कि कोरोना कर्फ्यू में लगातार शिकायते मिलने पर तीन टीम बना कर कार्रवाई की जा रही है। सबसे ज्यादा तो ठेले व्यापारी नियमों की धज्जियां उड़ा रहे है। समय समाप्त होने के बाद भी शाम को अलग-अलग स्थानों पर भीड़ लगाकर फल, सब्जिया एवं अन्य सामन बेचने वाले ऐसे 18 ठेले व्यापारियों को पुलिस ने पकड़ कर कार्रवाई की है।

नपा की चालानी कार्रवाई जारी
एसडीएम अनुकूल जैन के निर्देश पर नगर पालिका सीएमओ प्रेम वासुरे अपनी टीम के साथ सक्रिय नजर आ रहे हैं। प्रतिदिन नगर में पैदल भ्रमण करके दुकानदारों और फालतू घूमने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। सीएमओ ने बताया कि 9 अप्रैल से लगे कोरोना कर्फ्यू में टीम ने आठ हजार 914 बिना मास्क वालों का चालान काटा है। वहीं बेवजह सड़कों पर घूमने वाले और दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई कर 99 हजार 800 रूपये वसूले है। वहीं आठ दुकाने सील की गई है। शनिवार को सीएमओ ने अपनी टीम के साथ महात्मा गांधी मार्ग एवं मुख्य चौराहे के समीप कपड़ा दूकान, चप्पल-जुते की दूकान के मालिक पर कार्रवाई करके 3-3 हजार रूपये राशि वसूली। इस दौरान नपा इंजीनियर राहुल चौहान, अशोक दतोले, मनोहर डुलगज, मृगेंद्र, जयंत मालाकार सहित टीम मोजूद थी।

कोरोना कर्फ्यू में पुलिस की कार्रवाई
जिले में 9 अप्रैल से लगे कोरोना कर्फ्यू के दौरान पुलिस प्रशासन ने अब तक बिना मास्क और बेवजह बाहर घूम रहे लोगों से 699 चालान काटकर 71 हजार 500 रुपये राशि वसूली। मोटर व्हीकल एक्ट के तहत 146 लोगों को पकड़ कर 28 हजार 250 रुपये की राशी वसूली। नियमों का पालन नहीं करने पर 65 ठेले व्यापारी और दुकानदारों पर 188 की कार्रवाई की गई। जबकि बिना अनुमति के शादी समारोह में एक पर प्रकरण दर्ज किया गया। आबकारी अधिनियम के तहत दो लोगों के खिलाफ कार्रवाई किया। इसके अलावा 265 लोगों को अस्थाई जेल भेज गया।