महाराष्ट्र ने 1 जून तक बढ़ाया लॉकडाउन, बाहर से आने वालों के लिए निगेटिव RTPCR रिपोर्ट भी अनिवार्य

महाराष्ट्र (maharashtra) ने चल रहे लॉकडाउन (lockdown) की अवधि बढ़ाकर 1 जून कर दी है। इसके पहले 'ब्रेक द चेन' (break the chain) नाम से चल रहे इस लॉकडाउन की अवधि 15 मई तक निश्चित की गई थी।

मध्य प्रदेश

महाराष्ट्र, डेस्क रिपोर्ट। देश में महाराष्ट्र के साथ-साथ अन्य राज्यों में भी कोरोना को नियंत्रण में लाने और उसकी रोकथाम के लिए जगह-जगह लॉकडाउन और कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है। मामलों में खास गिरावट न होने के कारण लॉकडाउन की अवधि को विभिन्न राज्य अपने-अपने स्तर पर बढाते जा रहे हैं। ऐसे में महाराष्ट्र (maharashtra) ने चल रहे लॉकडाउन (lockdown) की अवधि बढ़ाकर 1 जून कर दी है। इसके पहले ‘ब्रेक द चेन’ (break the chain) नाम से चल रहे इस लॉकडाउन की अवधि 15 मई तक निश्चित की गई थी। इतना ही नहीं, राज्य सरकार (state government) ने बाहर से आने वालों के लिए आरटीपीसीआर रिपोर्ट (RTPCR report) निगेटिव (negative) होना अनिवार्य है।

यह भी पढ़ें… कोरोना कर्फ्यू में कार के अंदर रखकर बेच रहे थे शराब, दो भाई गिरफ्तार

महाराष्ट्र वो राज्य है जो देश के कुल कोरोना मामलों में सबसे ज़्यादा योगदान देता है। हालांकि, यूनियन हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में 30,000 से ज़्यादा सक्रिय मामलों में गिरावट देखने को मिली है। आपको बता दें की देश में एक दिन सक्रिय मामलों का दर अगर 1.4 प्रतिशत होता है तो अकेले महाराष्ट्र में ये दर 0.8 प्रतिशत होता है।

यह भी पढ़ें… दतिया: कोरोना कर्फ्यू के बावजूद खुली दुकान, भीड़ लगी तो प्रशासन ने किया सील, लगाया जुर्माना

प्रशासन का कहना है कि ‘ब्रेक द चेन’ के माध्यम से निश्चित ही राज्य में कोरोना की स्थिति में काबू पाया जा सका है और मामलों में भारी गिरावट भी देखी गयी है लेकिन स्थिति अभी भी नियंत्रण में नहीं है। अभी भी राज्य में पॉजिटिव मामलों का दर 10% से ज़्यादा है। ऐसे में राज्य सरकार ने लॉकडाउन को 15 मई से बढ़ाकर 1 जून तक करने का फैसला लिया है