भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संक्रमण (corona infection) से देश के हालात बद से बदतर बनाए जा रहे हैं। देश में भारी मात्रा में ऑक्सीजन (oxygen) और दवा की कमी का सामना मरीजों द्वारा किया जा रहा है। इन कमी की वजह से कितने मरीजों की मौत हो रही है। कोरोना काल की इस संकट के बीच लगातार आर्थिक रूप से सशक्त व्यक्तियों द्वारा पीएम केयर्स फंड (PM Care Funds) में दान किया जा रहा है ताकि गरीब जनता की जिंदगी को बचाया जा सके। हालांकि इन दान का कितना फायदा गरीब जनता को मिल रहा है। इसके लिए एक शख्स ने ट्वीट (TweeT) कर केंद्र सरकार को घेरने का काम किया है।

दरअसल गुजरात के विजय पारीख नामक एक शख्स द्वारा आज से 1 साल पूर्व पीएम केयर्स फंड में 2 लाख 51 हजार रुपए दान किए गए थे। हालांकि कोरोना की दूसरी लहर के बीच लगातार हॉस्पिटल में बेड की कमी की वजह से उस शख्स की मां ने दम तोड़ दिया। उसकी मां कोरोना संक्रमित बताई जा रही है। अब उस शख्स ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री सहित रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (rajnath singh), आरएसएस ऑर्गेनाइजेशन (RSS Organisation) सहित स्मृति ईरानी (Smriti Irani) और राष्ट्रपति भवन से सवाल पूछा है।

Read More: शिवराज कैबिनेट की अहम बैठक आज, कई प्रस्तावों को मिलेगी मंजूरी, इन मुद्दों पर चर्चा संभव

विजय पारीख ने ट्वीट करते हुए पूछा कि आखिर अगली बार से कितना दान देना पड़ेगा कि कोरोना की तीसरी लहर में किसी अपने को खोना ना पड़े। विजय पारीख ने पीएम केयर्स फंड में दान किए गए रिसिप्ट (receipt) के स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए ट्वीट किया कि 2,51,000 दान देने के बाद भी मैं अपनी मां को अस्पताल में बेड नहीं दिला पाया हूं। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सहित रक्षा मंत्रालय और राष्ट्रपति भवन से सवाल पूछते हुए विजय पारीख ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर में अस्पताल में बेड रिज़र्व कराने के लिए और कितना दान करना होगा, ताकि मैं अपने परिवार के दूसरे सदस्य को ना खो दूं।

अब इस शख्स द्वारा किया गया यह ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल किया जा रहा है। बता दें कि देश में कोरोना की दूसरी लहर ने तांडव मचाया। जहां अस्पताल में बेड सहित ऑक्सीजन और जीवन रक्षक दवाइयों की कमी से काफी मरीजों की मौत हुई है। ऐसी परिस्थिति में देश में कितने ही लोगों ने अपने अपनों को खो दिया।