MP उपचुनाव : ग्वालियर हाईकोर्ट के फैसले के बाद शिवराज सिंह चौहान की सभाएं निरस्त

शिवराज सिंह चौहान ने आगे कहा कि आज मेरी अशोकनगर (Ashoknagar) के शाडोरा और भांडेर के बराच सभाएं थीं, मैं दोनों जगह के भाइयों-बहनों से क्षमाप्रार्थी हूं।हमने दोनों जगह की सभाएं निरस्त की हैं

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। चुनावी सरगर्मियों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) का बड़ा बयान सामने आया है। शिवराज ने ट्वीट कर बताया है कि आज शाडोरा और बराच में मेरी सभाएँ थीं, मैं वहाँ के नागरिकों से क्षमा मांगता हूँ, हमने आज वो सभाएँ निरस्त की हैं। माननीय उच्च न्यायालय (high Court) की ग्वालियर बेंच (Gwalior Bench) ने एक फैसला दिया है जिसके तहत चुनावी रैली या सभाएँ आयोजित नहीं की जा सकती हैं या चुनाव आयोग की अनुमति से ही आयोजित की जा सकती हैं।

शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने आगे कहा कि आज मेरी अशोकनगर (Ashoknagar) के शाडोरा और भांडेर के बराच सभाएं थीं, मैं दोनों जगह के भाइयों-बहनों से क्षमाप्रार्थी हूं।हमने दोनों जगह की सभाएं निरस्त की हैं क्योंकि HC की ग्वालियर बेंच ने सभाएं न करने का फैसला दिया है, सभाएं न करने का, वर्चुअल रैली (Virtual rally करने का या फिर चुनाव आयोग (Election commission)से अनुमति लेकर ही सभाएं कर सकते हैं।हम माननीय न्यायालय का सम्मान करते हैं, उनके फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन इन फैसले के सम्बंध में सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) जा रहे हैं क्योंकि एक देश में दो विधान जैसी स्थिति हो गई है।

शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के एक हिस्से में रैली व सभा हो सकती है, दूसरे हिस्से में नहीं हो सकती। बिहार में सभाएं हों रही हैं, रैलियां हो रही हैं। लेकिन मध्यप्रदेश के एक हिस्से में सभाएं नहीं हो सकती।इस फैसले के संबंध में हम न्याय की प्राप्ति के लिए सर्वोच्च न्यायालय जा रहे हैं, हमें विश्वास है कि न्याय मिलेगा।लेकिन आज दोनों स्थानों के भाई-बहनों से क्षमाप्रार्थी हूं, जल्दी आऊंगा और सभा को संबोधित करूँगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here