सीएम शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में बढ़ते कोरोना (corona) आंकड़े को देखते हुए 24 अप्रैल यानी आज से किल कोरोना 2 (kill corona 2) अभियान की शुरुआत की जा रही है। इस बीच अभियान के तहत ग्रामीण क्षेत्र में घर-घर जाकर कोरोना के लक्षण दिखने वाले मरीजों की पहचान की जाएगी और उन्हें उचित इलाज मुहैया कराया जाएगा।

बीते दिनों इस पर बोलते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) ने कहा कि हमें हौसला रखना होगा। अपने गांव की कमान अपने हाथों में लेनी होगी। सीएम शिवराज ने ग्रामीण निकाय के जनप्रतिनिधियों से बात की और कहा कि जब तक कोरोना को खत्म नहीं कर देना है तबतक चैन से नहीं बैठ सकेंगे।

Read More: सिंधिया के हस्तक्षेप के बाद भी नहीं मिली अस्पताल में जगह, युवक की मौत

इतना ही नहीं सीएम शिवराज ने सभी गांव वालों से आवाहन किया है कि अपने गांव को कोरोना मुक्त बनाइए। कड़ाई कर ली जाए तो हम यह जंग जीत जाएंगे। शिवराज ने कहा कि प्रदेश के बुरहानपुर और खंडवा में पॉजिटिविटी रेट में काफी कमी देखने को मिली है।  यदि लोग घरों में रहे तो स्थिति काबू में आ जाएगी। वहीं उन्होंने ग्राम पंचायत सचिवों से व्यवस्था बनाए रखने और बाहर से आने वाले मजदूरों को आइसोलेट करने की बात कही है।

बता दें कि मध्य प्रदेश सरकार 14,700 पंचायतों में जनता कर्फ्यू लगा चुकी है। वहीं प्रदेश के हर गांव खुद कोरोना कर्फ्यू लगाएं और संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए आगे आएं। इसकी अपील सीएम शिवराज ने की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 24 तारीख से किल कोरोना अभियान का दूसरा चरण शुरू किया जाएगा। जिसके तहत संक्रमण के लक्षण दिखने पर ग्रामीणों को उचित व्यवस्था और इलाज मुहैया कराए जाएंगे।