MP Board: दो बार आयोजित होगी प्री–बोर्ड की परीक्षा, प्रश्न बैंक पर आयुक्त कियावत का बड़ा बयान

लोक शिक्षण संचनालय कि आयुक्त कियावत का कहना है कि परीक्षा की तैयारियां शुरू कर दी गई है। पुराने पैटर्न पर ही 70 फ़ीसदी कोर्स के साथ परीक्षा आयोजित की जाएगी। स्कूलों में परीक्षा की तैयारियां की जा रही है।

MP board

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में बोर्ड परीक्षा (board exam) को लेकर लगातार नए नियम बनाए जा रहे हैं। वही संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए परिस्थितियों में भी बदलाव किए गए हैं। इसके साथ ही साथ बोर्ड परीक्षा से पहले विद्यार्थियों को इस साल 2 बार प्री बोर्ड (pre board) की परीक्षा देनी होगी।

बता दें कि प्रदेश में पहली बार होगा जब छात्रों को प्री बोर्ड की पहली परीक्षा ऑफलाइन (offline) जबकि दूसरी परीक्षा ऑनलाइन (online) देनी होगी। वहीं इस मामले में लोक शिक्षण संचनालय (Public education directorate) का कहना है की प्री बोर्ड की पहली परीक्षा मार्च के अंतिम सप्ताह जबकि दूसरी अप्रैल महीने के दूसरे सप्ताह में लेने की तैयारी की गई है।

इसके साथ ही डीपीआई (DPI)  ने कहा कि 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा से पहले परीक्षार्थियों की प्री बोर्ड परीक्षा इस साल 2 बार आयोजित की जाएगी। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि विद्यार्थियों के अंदर के डर को कम किया जा सके। वही लोग शिक्षण संचनालय की आयुक्त जयश्री कियावत (jayshree kiyawat) का कहना है कि पहली परीक्षा के बाद विद्यार्थियों को उनके कमजोर विषयों को सशक्त किया जाएगा और इसके लिए शिक्षकों के पास भेजा जाएगा। ताकि मुख्य परीक्षा से पहले उन्हें किसी भी दिक्कत का सामना ना करना पड़े।

Read More: MP Board: 1 से 8वीं के स्कूल खोलने को लेकर आयोग ने इंदर सिंह परमार को लिखा पत्र, की ये मांग

इस मामले में लोक शिक्षण संचनालय की आयुक्त कियावत का कहना है कि परीक्षा की तैयारियां शुरू कर दी गई है। पुराने पैटर्न पर ही 70 फ़ीसदी कोर्स के साथ परीक्षा आयोजित की जाएगी। स्कूलों में परीक्षा की तैयारियां की जा रही है। बच्चों को उनके कठिन विषयों मैं आ रहे दिक्कत को हल किया जा रहा है। वही प्रश्न बैंक भी तैयार किए जा रहे हैं। हालांकि विद्यार्थियों के लिए जो अतिरिक्त कक्षा संचालित की जा रही है। उसमें भी पुराने प्रश्न बैंक को ही हल करवाया जा रहा है। ताकि स्कूल ना लगने की वजह से छात्रों को परेशानी का सामना ना करना पड़े।

बता दें कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में 70% प्रश्न कोर्स के अंदर से ही परीक्षा में पूछे जाएंगे। इस मामले में जिलाधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। ज्ञात हो कि इससे पहले एक बार फिर से 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा की तिथि में बदलाव किया गया है। जहां 10वीं की परीक्षा 30 अप्रैल 2021 से शुरू होगी। वही 12वीं की परीक्षा 1 मई से संचालित की जाएगी। वही प्रदेश में संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा यह अबतक तय नहीं किया जा सका है कि परीक्षा कितने केंद्रों पर ली जाएगी।