MP Board: 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा में इस साल बदले नियम, छात्र ऐसे करें तैयारी

अधिकारियों का कहना है कि 29 जनवरी को माध्यमिक शिक्षा मंडल परीक्षा समिति की बैठक होगी। जिसके बाद समय सारणी को जारी कर दिया जाएगा।

शिवराज सरकार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा (MP Board Exam) अप्रैल महीने से शुरू की जाएगी। इससे पहले माध्यमिक शिक्षा मंडल (Board of Secondary Education) ने कोरोना (corona) के प्रभाव को देखते हुए बोर्ड परीक्षा के पैटर्न (pattern) में बदलाव किया था। जिसके बाद अब विद्यार्थियों को कॉपियों की जगह ओएमआर सीट पर परीक्षा देनी होगी। ओएमआर शीट में विद्यार्थी वस्तुनिष्ठ प्रश्न का उत्तर लिखेंगे।

दरअसल मध्यप्रदेश में कोरोना काल को देखते हुए मार्च महीने से स्कूलों को बंद रखा गया था। विद्यार्थियों के हित में और परीक्षा के परिणाम जल्द जारी हो सके इसके लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में बदलाव किया है। जिसके मुताबिक इस साल दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा के परीक्षार्थी ओएमआर शीट (OMR Sheet) पर परीक्षा देंगे।

परीक्षा पत्र को तीन श्रेणी में बांटा जाएगा जहां पहला वस्तुनिष्ठ प्रश्न ओमर सीट पर करने के बाद विद्यार्थियों को दूसरी और तीसरी श्रेणी करने के लिए कॉपी उपलब्ध कराई जाएगी। छात्रों को परीक्षा में 50 प्रश्न हल करने को दिए जाएंगे। परीक्षा में 30 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को आधा घंटे में हल कर ओएमआर शीट पर टिक करना होगा। 20 प्रश्नों के निश्चित शब्द सीमा में हल करने छात्रों को उत्तर पुस्तिका दी जाएगी। इस मामले में माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया (Radheshyam julania) का कहना था कि कोरोना को देखते हुए प्रदेश में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा दो महीने विलंब से शुरू की जा रही है। वहीं परीक्षा का रिजल्ट जल्दी जारी हो सके। इसलिए इस कार्यशैली को अपनाया गया है।

Read More: केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा लाभ, नए साल में इतने प्रतिशत बढ़ सकता है DA

हालांकि 10वीं और 12वीं की कॉपियां गृह जिले में ही जांची जाएगी लेकिन ओएमआर शीट को जांचने के लिए राजधानी भोपाल (bhopal) भेजा जाएगा। वहीं इस वर्ष प्रश्न बैंक से ही 10वीं 12वीं परीक्षा में प्रश्न पूछे जाएंगे कोरोना को देखते हुए परीक्षा में बाहर से प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे। बता दें कि मध्यप्रदेश में दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा 30 अप्रैल से शुरू होकर मई के तीसरे सप्ताह तक चलेगी। जिसके लिए जल्द ही टाइम टेबल (Time Table) जारी किया जाएगा।

इस बार 10वीं और 12वीं की परीक्षा की समय सारणी जारी करने में विलंब की जा रही है जबकि हर साल फरवरी में होने वाली परीक्षा के लिए दिसंबर के प्रथम सप्ताह में समय सारणी जारी कर दी जाती थी। इस मामले में माध्यमिक शिक्षा मंडल के अधिकारियों का कहना है कि 29 जनवरी को माध्यमिक शिक्षा मंडल परीक्षा समिति की बैठक होगी। जिसके बाद समय सारणी को जारी कर दिया जाएगा। वहीं इस साल दसवीं बारहवीं की बोर्ड परीक्षा को 16 दिन में ही समाप्त कर दिया जाएगा।

वही विशेषज्ञों की माने 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा के परीक्षार्थी यदि प्रश्न बैंक से ही प्रश्नों को हल कर ले तो परीक्षा में अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकते हैं। इससे पहले छात्रों की परीक्षा को सरल करने के लिए 21 व्यवसायिक पाठ्यक्रम के ट्रेंड को भी बंद कर दिया गया था।