MP उपचुनाव : तो क्या निरस्त हो जाएगा बिसाहूलाल सिंह का नामांकन पत्र! कांग्रेस ने दर्ज कराई शिकायत

अपने लिखे पत्र में जिला कांग्रेस अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल ने कहा है कि निर्देशन पत्रों की समीक्षा में बिसाहूलाल सिंह के द्वारा संलग्न प्रारूप 26 के अंतर्गत शपथ पत्र में शस्त्र की अनुज्ञप्तिधारक होने के बावजूद अपने रिवाल्वर और राइफल का उल्लेख नहीं किया गया है।

बिसाहूलाल सिंह

अनूपपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश(madhya pradesh) में आगामी 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव(by election) को लेकर प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। जिसके बाद अब निर्देशन पत्रों की समीक्षा की जा रही है। इसी बीच लगातार जानकारी छिपाने को लेकर पार्टियां निर्वाचन आयोग (Election Commission) में शिकायत दर्ज करवा रही है।

इसी के मद्देनजर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल ने रिटर्निंग ऑफिसर(Returning officer), उपचुनाव निर्वाचन, अनूपपुर (anuppur) को पत्र लिखा है। अपने पत्र में कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल ने यह दलील दी है कि भाजपा प्रत्याशी बिसाहूलाल सिंह (bisahulal singh)  ने शस्त्र अनुज्ञप्तिधारक होने के बावजूद उक्त संपत्ति का विवरण ना देकर जानकारी को छिपाया है। वहीं कांग्रेस ने मांग की है कि बिसाहूलाल सिंह का नामांकन (Nomination) निरस्त  किया जाए।

यह भी पढ़े…बिसाहूलाल साहू ने कांग्रेस को दी सलाह- “पहले अपने गिरेबान में झांके”

दरअसल अपने लिखे पत्र में जिला कांग्रेस अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल ने कहा है कि निर्देशन पत्रों की समीक्षा में बिसाहूलाल सिंह के द्वारा संलग्न प्रारूप 26 के अंतर्गत शपथ पत्र में शस्त्र की अनुज्ञप्तिधारक होने के बावजूद अपने रिवाल्वर(Revolver) और राइफल(Rifle) का उल्लेख नहीं किया गया है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बिसाहूलाल सिंह ने उक्त संपत्ति का विवरण जानबूझकर छुपाया है। वहीं कांग्रेस ने रिटर्निंग ऑफिसर से अपील की है कि जानकारी छिपाने के कारण भाजपा प्रत्याशी बिसाहूलाल सिंह का नामांकन पत्र निरस्त किया जाए।

यह भी पढ़े…मंत्री बिसाहूलाल सिंह का नोट बांटते फोटो वायरल, पूर्व मंत्री ने की कार्रवाई की मांग

बता दें कि इससे पहले भाजपा उम्मीदवार जजपाल सिंह जज्जी(BJP candidate Jajpal Singh Jajji) के नामांकन पर 3 आपत्तियां दर्ज कराई गई थी। जिनमें जाति प्रमाण, आपराधिक प्रकरणों की जानकारी छुपाने और नामांकन पत्र में त्रुटि होने की वजह से यह आपत्तियां जताई गई थी। जिसे रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा स्वीकार किया गया था। हालांकि बाद में इन आपत्तियों को खारिज कर दिया गया था।

बिसाहूलाल सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here