बिसाहूलाल साहू ने कांग्रेस को दी सलाह- “पहले अपने गिरेबान में झांके”

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में चावल घोटाले का खुलासा होने के बाद पूरे मामले की जांच ईओडब्ल्यू कर रहा है। अब तक प्राथमिक जांच दर्ज की जा चुकी हैं जिसके बाद ईओडब्ल्यू की स्पेशल टीम मामले की जांच कर रही है।

जांच में हो रही देरी पर कांग्रेस लगातार सवाल खड़े कर रही है। कांग्रेस का आरोप है कि जांच में कुछ नहीं निकलेगा। लेकिन इन आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए खाद्य आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल साहू ने कहा कि चाहे मिलर्स हो या कोई अन्य व्यक्ति, जांच सबकि होगी। हम लोग निष्पक्ष जांच कर रहे हैं। अगर कोई भी अनियमितता होती तो हम जांच ही क्यों कराते। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। कांग्रेस पर पलटवार करते हुए साहू ने कहा कि कांग्रेस पहले अपने गिरेबान में झांके। उन्होंने कहा कि मैं खुद भी पिछले 19 साल से कांग्रेस पार्टी का सदस्य रह चुका हूं, मुझे भी कांग्रेस पार्टी पर बहुत विश्वास था, जब चुनाव का समय आया तो मैं भी घोषणा पत्र बनाने में शामिल रहा था। घोषणा पत्र में जो वादे किए थे कि किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा लेकिन वो कुछ नहीं हो पाया। जब इन घोषणाओं को लेकर पब्लिक के बीच में गए तो पब्लिक सवाल कर रही थी।

खाद्य विभाग की बैठक को लेकर मंत्री ने कहा की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और खाद्य विभाग यह सुनिश्चित कर रहा है कि हम 16 सितंबर को पूरे प्रदेश में उन गरीबों को राशन देंगे जिनकी पर्ची नहीं बनी है। यह सुनिश्चित किया गया है कि 16 सितंबर तक सभी को राशन कार्ड की पर्ची दे दी जाएगी, इसी दिशा पर हम लोग लगातार बैठक कर रहे हैं।
वही राशन वितरण की तारीख आगे बढ़ाए जाने पर उठ रहे सवालों का जवाब देते हुए मंत्री बिसाहू लाल ने कहा कि तारीख इसलिए बढ़ाई जा रही है क्योंकि हमने वादा किया था कि हम 1 तारीख को पर्ची बाटेंगे लेकिन पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन के चलते प्रदेश में घोषित हुए राजकीय शोक की वजह से खाद्यान्न वितरण में देरी हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here