MP News : CM Shivraj का बड़ा ऐलान, मध्य प्रदेश शराब नीति में संशोधन होगा

शराब नीति को लेकर उमा भारती से करेंगे चर्चा, भारत सरकार द्वारा नशामुक्ति हेतु प्रयास के लिए मध्यप्रदेश को पुरस्कार

mp cm shivraj

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के खाते में एक और उपलब्धि आई है। केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा हुई ग्रेडिंग में एनएमबीए (नशा मुक्त भारत अभियान) राज्य श्रेणी पुरस्कार में मध्यप्रदेश का चयन किया गया है। वहीं जिला श्रेणी पुरस्कार में दतिया को देशभर में पहला स्थान मिला है। इसके बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि हम अपनी शराब नीति में आवश्यक संशोधन करेंगे, जिससे लोग शराब से दूर रह सके। उन्होने ये भी कहा कि इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती से भी चर्चा की जाएगी।

ये भी देखिये – कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, वेतन में होगी बंपर वृद्धि, खाते में जल्द बढ़ेगी राशि, की जाएगी नवीन भर्तियां

बता दें कि उमा भारती लगातार प्रदेश में शराब नीति में संशोधन और अहाते बंद करने की मांग करती रही हैं। मुख्यमंत्री ने  उमा भारती का उल्लेख करते हुए कहा कि वे सामाजिक परिवर्तन के लिए लगातार प्रयास करती रहती हैं और लगातार नशामुक्ति के लिए प्रयत्नशील हैं। हम उनसे बात करेंगे कि कैसे समाज को नशे से दूर रखा जा सकता है और मध्यप्रदेश को नशे से कैसे बचा सकते हैं, हम इस दिशा में लगातार प्रयास करते रहेंगे।

सीएम शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार दो स्तरों पर काम करेगी। पहला, जनजागरण के जरिए लोगों को नशे से दूर कर मध्यप्रदेश को नशामुक्त बनाए और दूसरा ये कि हम अपनी शराब नीति भी ऐसी बनाएंगे, उसमें आवश्यक संशोधन करेंगे जिससे शराब और बाकी नशे से लोग दूर रह सकें। उन्होने कहा कि शराब नाश की जड़ है और ये मनुष्य को बर्बाद करने का काम करता है। उन्होने आह्वान किया कि नशे के खिलाफ सरकार ही नहीं, समाज भी मिलकर अभियान चलाए। मध्यप्रदेश में ये अभियान प्रारंभ हुआ है और हमारा हमेशा प्रयास रहेगा कि जनजागृति के जरिए हम प्रदेश को नशामुक्ति की ओर ले जाएं। शराब के अलावा अन्य नशे भी है जो बहुत खतरनाक है और उनके खिलाफ भी हमारा अभियान लगातार जारी रहेगा। नशा मुक्ति के लिए किए जा रहे प्रयासों में मध्य प्रदेश को सर्वश्रेष्ठ प्रदेश के रूप में चयन करने के बाद इसकी अवॉर्ड सेरेमनी 30 जुलाई 2022 को चंडीगढ़ में होगी। यहां गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री तथा चंडीगढ़ के महामहिम राज्यपाल की उपस्थिति में पुरस्कार वितरण होगा।