MP Teacher Recruitment: 30 हजार शिक्षकों को शिवराज सरकार ने दी बड़ी राहत, खत्म होगा इंतजार

इसके अलावा आयु प्रमाण पत्र, एड्रेस सर्टिफिकेट, चरित्र प्रमाण पत्र सहित जाति प्रमाण पत्र में अभ्यर्थियों को अपने साथ रखने होंगे।

Teacher Recruitment

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में 30000 युवाओं का इंतजार खत्म होने वाला है। दरअसल उच्च माध्यमिक-माध्यमिक शिक्षकों (Secondary Teachers) की सीधी भर्ती (Teacher Recruitment) के लिए दस्तावेज के सत्यापन की प्रक्रिया (process) दोबारा शुरू होगी। दरअसल 7 जून से शुरू होने वाले दस्तावेज के सत्यापन की प्रक्रिया के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है।

बता दे कि स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा कोरोना (corona) की दूसरी लहर को देखते हुए 20 मई को दस्तावेज के सत्यापन की प्रक्रिया स्थगित कर दी गई थी। वही दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया में शामिल होने वाले अभ्यर्थी को दस्तावेज सत्यापन के लिए कई दस्तावेजों को साथ लेकर जाना होगा।

Read More: MP School: कई विकल्प तैयार, मंत्री ने बताया- इस महीने से खुलेंगे स्कूल

दरअसल माध्यमिक शिक्षकों के लिए दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया में टीईटी (TET) पास परीक्षा का सर्टिफिकेट (certificiate) सहित 10वीं 12वीं के परीक्षा सर्टिफिकेट सहित ग्रेजुएशन सर्टिफिकेट, बीएड और डीएलएड का सर्टिफिकेट और जन्म तिथि प्रमाण पत्र लेकर शामिल होना अनिवार्य है। इसके अलावा आयु प्रमाण पत्र, एड्रेस सर्टिफिकेट, चरित्र प्रमाण पत्र सहित जाति प्रमाण पत्र में अभ्यर्थियों को अपने साथ रखने होंगे।

मध्य प्रदेश में शिक्षक भर्ती परीक्षा का परीक्षा का नोटिफिकेशन 2018 में जारी हुआ था। जिसके लिए 2019 में परीक्षा का आयोजन किया गया था। वही उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के परिणाम अगस्त जबकि माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के परिणाम अक्टूबर में जारी किए गए थे। जिसके बाद 2 साल से अभ्यर्थी शिक्षक भर्ती का इंतजार कर रहे हैं।