भोपाल,  डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संक्रमण (corona infection) का कहर अब प्रदेश में कमजोर होता नज़र आ रहा है। आंकड़ों पर नज़र डालें तो प्रदेश सरकार ने लगभग कोरोना की दूसरी लहर (second wave) पर काबू पा लिया है। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) के इस बयान के बाद अब प्रदेशवासी राहत की सांस ले सकते है। हालांकि सावधानी अभी भी जरूरी है।

कोरोना की दूसरी लहर पर बहुत हद तक काबू

बुधवार को मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (narottam mishra) ने बताया कि अब प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर पर बहुत हद तक काबू पा लिया गया है। इसी का नतीजा है की पिछले 24 घंटो में प्रदेश में कोरोना संक्रमित सिर्फ 160 मरीज सामने आए है। वही 7 हजार 287 टेस्ट (test) किए गए। ठीक होने वाले कोरोना मरीजों की संख्या 463 है। साथ ही कोरोना मरीजों के 3273 प्रकरण ही बचे है। संक्रमण दर कम होने का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि प्रदेश में संक्रमण दर अब आधा प्रतिशत से भी नीचे यानी माइन्स 22 है।

Recovery Rate 98.4 प्रतिशत- मिश्रा 

साथ ही प्रदेश में कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की दर 98.4 प्रतिशत है। प्रदेश के 22 जिले ऐसे है, जिसमें पिछले 24 घंटो में कोरोना का कोई नया मरीज सामने नही आया है। वही Gwalior जैसे बड़े शहर में भी पिछले कुछ घंटों में कोई नया मरीज सामने नही आया है। फिलहाल यह राहत भरी खबर है लेकिन सावधानी अभी भी बेहद जरूरी है।

गृह मंत्री मिश्रा का कहना है कि प्रदेश को पूरी तरह Unlock किये जाने पर सरकार अभी विचार कर रही है। जैसे जैसे परिस्थितियों में सुधार आता जा रहा है, वैसे वैसे प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा। सरकार दूसरी लहर के कम होते मामलों और तीसरी लहर (third wave) की संभावना को ध्यान में रखकर अनलॉक की तरह बढ़ेगी।

Read Moreक्या Scindia के रास्ते पर Pilot! राजस्थान कांग्रेस में मचा सियासी बवाल

कांग्रेस (congress) पर साधा निशाना 

वही राम जन्म भूमि (ram janmbhoomi) में जमीन के विवाद के मामले पर एक बार फिर गृह मंत्री ने कांग्रेस (congress) पर निशाना साधा है ।उन्होंने कहा कि इस मामले में राम जन्म भूमि न्यास का बयान सामने आ गया है। उसके बावजूद कांग्रेस हिंदुओ की भावनाओ को आहत कर रही है और हमेशा कांग्रेस इसी कोशिश में लगी रहती है। उनके बड़े नेता राहुल गांधी (rahul gandhi) हो या गुरु दिग्विजयसिंह (digvijay singh) हो यह हमेशा आस्था के केंद्र पर कुठाराघात करते है।

PM मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज की मुलाकात महत्वपूर्ण – गृह मंत्री

वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) की दिल्ली में हुई मुलाकात पर भी गृह मंत्री ने इसे एक महत्वपूर्ण मुलाकात बताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के दौरान किस तरह सरकार ने पंचायत क्राइसिस से लेकर जिला और फिर राज्य क्राइसिस मैनेजमेंट में काम किया और सफलता हासिल की। इस पर प्रधानमंत्री से चर्चा की। साथ ही तीसरी लहर की तैयारियों पर भी मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा कर प्रदेश की रणनीति बताई।

फिलहाल प्रदेश में लगातार कम हो रहे कोरोना के मामलों पर न सिर्फ सरकार बल्कि आम आदमी ने भी राहत की सांस ली है क्योंकि महामारी का कहर प्रदेश में भी नज़र आया और लगातर मार्च महीने से लेकर मई तक प्रदेश में लाखों लोग न सिर्फ संक्रमित हुए बल्कि बड़ी संख्या में संक्रमित की इससे मौत हुई। फिलहाल सरकार ने अभी भी लोगों से अपील की है कि सावधानी रखें और कोविड नियमों का पालन करे।