महिला दिवस: इस ट्रेन की कमान संभाली महिलाओं ने, रेलवे स्टेशन भी महिलाओं के जिम्मे

बुंदेलखंड एक्सप्रेस मंगलवार 8 मार्च को ग्वालियर पहुंची तब ट्रेन के साथ साथ ग्वालियर रेलवे स्टेशन की आंतरिक और बाह्य व्यवस्था सब महिलाओं के हाथों में ही थी।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं के सम्मान में कई तरह के नवाचार देखने को मिले। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महिला सफाईकर्मियों के साथ चाय पर चर्चा की, आज उनका पूरा स्टाफ महिलाओं का रहा, वहीं गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने उनके आवास की सुरक्षा में तैनात कॉन्स्टेबल मीनाक्षी वर्मा को कुछ देर के लिए गृह मंत्री की कुर्सी सौंप दी। उधर ग्वालियर नगर निगम ने महिला सफाईकर्मियों को वार्ड हेल्थ ऑफिसर बनाकर उन्हें सफाई कार्य से मुक्त रखा और उनके निर्देशन में सफाईकर्मियों ने सफाई व्यवस्था संभाली। इसी क्रम में रेलवे ने भी एक कदम बढ़ाया, रेलवे ने बुंदेलखंड एक्सप्रेस की कमान महिलाओं को सौंप दी।

ये भी पढ़ें – MP News: महिला दिवस पर MP की MA पास सफाईकर्मी को मिला विशेष तोहफा

महिला दिवस के विशेष मौके पर बुंदेलखंड एक्सप्रेस को झाँसी से ग्वालियर तक लोको पायलट कौशल्या देवी एवं सहायक लोको पायलट आकांक्षा गुप्ता लेकर आई। खास बात ये रही कि इस दौरान ट्रेन में पूरा स्टाफ भी महिलाओं का रहा।  टीटीई से लेकर ट्रेन की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी महिलाओं से संभाली।

महिला दिवस: इस ट्रेन की कमान संभाली महिलाओं ने, रेलवे स्टेशन भी महिलाओं के जिम्मे महिला दिवस: इस ट्रेन की कमान संभाली महिलाओं ने, रेलवे स्टेशन भी महिलाओं के जिम्मे

गौरतलब है कि जब बुंदेलखंड एक्सप्रेस सोमवार 8 मार्च को ग्वालियर पहुंची तब ट्रेन के साथ साथ ग्वालियर रेलवे स्टेशन की आंतरिक और बाह्य व्यवस्था सब महिलाओं के हाथों में ही थी।  डिप्टी एसएस की जिम्मेदारी भी महिलाओं के जिम्मे थी, ग्वालियर से गुजरने वाली ट्रेनों को रोकने और रवाना करने के लिए चेंज किये जाने वाले सिग्नल भी महिलाओं ने ऑपरेट किये। कुल मिलाकर अंतरराष्ट्रीय  महिला दिवस पर सरकार और समाज ने महिलाओं के साथ नवाचार कर उनके प्रति कृतज्ञता और सम्मान प्रदर्शित किया।