गरजे ज्योतिरादित्य सिंधिया, कहा – कौन बिकाऊ-कौन टिकाऊ, परिभाषा साफ है..

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pm narendra modi) ने हाल ही में अपने मंत्रिमंडल का विस्तार (cabinet expansion) किया और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) सहित कई नए चेहरों को शामिल किया था। जिसपर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (bhupesh baghel) ने केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बनाए जाने पर सिंधिया (scindia)  पर हमला बोला था। इस दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को बिकाऊ की संज्ञा दी थी। जिस पर मामला गरमा गया है। दरअसल सिंधिया ने CM भूपेश बघेल को घेरने का काम किया है।

दरअसल ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट करते हुए कहा कि भूपेश बघेल अपने दामाद का निजी महाविद्यालय बचाने के लिए सरकारी राशि से महाविद्यालय खरीदने की कोशिश में है। प्रदेश की राशि का उपयोग बघेल अपने दामाद के लिए कर रहे हैं। वह भी एक ऐसे मेडिकल कॉलेज को भूपेश बघेल बचाने की तैयारी में है। जिस पर धोखाधड़ी के आरोप मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा लगाए गए थे। इसके साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने यह कहा है कि इससे यह स्पष्ट होता है कि कौन बिकाऊ है और कौन टिकाऊ, इसकी परिभाषा अब साफ है।

Read More: बोले नरोत्तम – भाऊ हो या दाऊ, सब घुटनों पर आएंगे, राहुल गांधी पर जमकर ली चुटकी

ज्ञात हो कि बीते दिनों मोदी सरकार ने अपनी कैबिनेट का विस्तार किया था। इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित कई युवा नेता को जगह दी गई थी। जिसके बाद कई कांग्रेसियों ने सिंधिया पर जमकर निशाना साधा था। इस दौरान बघेल ने सिंधिया पर हमला बोलते हुए कहा कि एयर इंडिया का लोगो महाराज और सिंधिया परिवार से हैं और मोदी सरकार ने सिंधिया को एयर इंडिया की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके साथ ही बघेल ने कहा था कि एयर इंडिया और सिंधिया दोनों बिक्री के लिए तैयार हैं।

ज्ञात हो कि कांग्रेस का हाथ छोड़ बीजेपी का दामन थामने के बाद सिंधिया पर लगातार कांग्रेस हमलावर रही है। कभी शब्दों में तो कभी तंज के रूप में सिंधिया पर लगातार हमला बोला जाता रहा है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बनने के बाद भूपेश बघेल ने सिंघिया पर निशाना साधा था जिसका जवाब आज सिंधिया ने अपने ट्वीट के माध्यम से दिया है।