एक बार फिर दिग्विजय सिंह के निशाने पर RSS, कही ये बड़ी बात

आप और आपका संघठन तो राजनीति में नहीं हैं ना, फिर क्यों इस महंगाई का विरोध नहीं कर रहे। अपने संगठन के हितों से ऊपर उठ कर कुछ देश के बारे में भी सोचिए।  

दिग्विजय सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) का राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) से छत्तीस का आंकड़ा है। देश से जुड़े अनेक मुद्दों पर दिग्विजय सिंह (digvijay Singh) राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) को घेरते रहते हैं। इस बार दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने पेट्रोल डीजल (Petrol Diesel) की बढ़ती कीमतों पर RSS पर निशाना साधा है। दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने ट्वीट (Tweet) कर संघ प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) से कहा है कि आप और आपका संघठन तो राजनीति में नहीं हैं ना, फिर क्यों इस महंगाई का विरोध नहीं कर रहे। अपने संगठन के हितों से ऊपर उठ कर कुछ देश के बारे में भी सोचिए।

दरअसल पेट्रोल डीजल (Petrol Diesel) की बढ़ती कीमतों ने देश के साथ मध्यप्रदेश की सियासत का पारा भी गरम कर दिया है। लगातार बढ़ रही कीमतों के चलते केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) और प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Government) विपक्ष के निशाने पर है। कांग्रेस (Congress) उछाल मारती पेट्रोल डीजल (Petrol Diesel) की कीमतों को लेकर भाजपा (BJP) और सरकार पर हमलावर है। इसी क्रम में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने ट्वीट (Tweet) करते हुए मोदीशाह के अच्छे दिन लिखकर संघ प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) पर निशाना साधा है। दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh)ने ट्वीट (Tweet)के साथ एक पोस्ट भी शेयर की है जिसमें पेट्रोल डीजल (Petrol Diesel) पर लगने वाले केंद्र सरकार के टैक्स को दर्शाते हुए 2014 से 2021 की तुलना की है।

ये भी पढ़ें –MP Politics: नरोत्तम की कांग्रेसियों को नसीहत, साइकिल चलाने के पहले रखे यह ख्याल

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh)ने ट्वीट (Tweet) किया – मोदीशाह जी के अच्छे दिन!! मोहन भागवत जी आप अपनी चुप्पी कब खोलेंगे या जनता के ऊपर हो रहे अत्याचार पर ऑंख बंद कर मोदीशाह का समर्थन करते रहेंगे? आप व आपका संगठन  तो राजनीति में नहीं है ना? फिर इस महंगाई का विरोध क्यों नहीं कर रहे?

दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने दूसरे ट्वीट (Tweet) में लिखा – और तो और इस महंगाई में आपका संगठन चंदा वसूली में लगा हुआ है। जनता किस से कहें? मोदीशाह जी को आपने इतना सिर पर बैठा रखा है ना वे गरीब, ना मज़दूर ना किसान ना मध्यम वर्गीय परिवारों की सुन रहे। मद मस्त हो चुके हैं। अपने संगठन के हितों से ऊपर उठ कर कुछ देश के बारे में भी सोचिए।