Sonu Sood की मदद से पहले ही जिंदगी की जंग हारे Indore के सार्थक, कोरोना से हुई मौत

16 मई को सार्थक को मोहक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर (indore) के बख्तावरराम नगर में रहने वाले 25 साल के युवक सार्थक गुप्ता (sarthak gupta) जिंदगी की जंग हार गए हैं। दरअसल सोनू सूद (sonu sood) ने Law Student सार्थक गुप्ता के मदद का ऐलान किया था लेकिन मदद पहुंचने से पहले ही सार्थक ने अपनी सांसे रोक दी। दरअसल सार्थक गुप्ता के फेफड़े में 95 फीसद तक संक्रमण होने की वजह से उनके दोनों फेफड़े खराब हो गए थे। वही आज सुबह ही सार्थक गुप्ता को एयरलिफ्ट (airlift) से हैदराबाद ले लेने की योजना थी।

Read More: MP Congress ने संगठन में किया बड़ा बदलाव, करीबियों को मिली जगह, वरिष्ठ नेता में असंतोष

इसके पहले ही सोमवार रात्रि 11:00 बजे सार्थक ऑक्सीजन लेवल (oxygen level) और बीपी (BP) बहुत कम होगी और मंगलवार सुबह 8:00 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। बता दें कि सार्थक गुप्ता 5 मई को कोरोना संक्रमित हुए थे। जिसके बाद 11 से 15 मई तक उन्हें इंदौर के एक अस्पताल में भर्ती किया गया था। 11 मई को उनके फेफड़े में संक्रमण के कुछ प्रतिशत डॉक्टर ने बताया थे। वहीं 15 मई तक संक्रमण 60 से 70 फीसद तक फेफड़े में पहुंच चुका था। जिसके बाद 16 मई को सार्थक को मोहक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

Read More: MPPSC : मप्र के युवाओं के लिए बड़ा मौका, इन पदों पर निकली वेकेंसी, जाने डिटेल्स

वहीं लॉ छात्र सार्थक गुप्ता के लिए अभिनेता सोनू सूद आगे आए थे। वहीं अभिनेता के द्वारा सार्थक के इलाज के लिए राशि भी जुटाई गई थी लेकिन मदद से पहले ही कोरोना से पीड़ित होने के कारण सार्थक का निधन हो गया है। बता दे कि सार्थक के इलाज में करीब डेढ़ करोड़ रुपए खर्च का अनुमान था।