SCAM: मेडिकल के छात्र को मिल रही 8वीं की छात्रवृत्ति, कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

कलेक्टर ने कहा है कि 12वीं की परीक्षा पास कर चुके छात्रों के नाम छात्रवृत्ति लिस्ट में शामिल है जिसके लिए छात्रवृत्ति राशि निकाले जाने की जानकारी सामने आई है। वहीं इस पर जांच कर कार्रवाई की जा रही है।

आईपीएल

मंदसौर, डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश के शिक्षा विभाग (education Department) में लगातार छात्रवृत्ति घोटाले (Scholarship scam) की खबर सामने आ रही है। ऐसा ही एक मामला अब प्रदेश के मंदसौर (mandsaur) जिले से सामने आया है। इस घटना के बाद कलेक्टर (collector) सहित आला अधिकारियों ने जांच की बात कही है।

दरअसल मंदसौर जिले के एमबीबीएस (MBBS) छात्र द्वारा शिकायत की गई कि उसे छात्रवृत्ति का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जब इस मामले की जांच की गई तो पाया गया कि एमबीबीएस छात्र का नाम 8वीं कक्षा की छात्रवृत्ति में दर्ज है। इतना ही नहीं उस पर छात्रवृत्ति की रकम भी निकाली जा रही है। इस घोटाले के सामने आने पर आशंका जताई जा रही है कि बड़ी संख्या में 12वीं पास कर चुके छात्र-छात्राओं के नाम पर फर्जी तरीके से छात्रवृत्ति की राशि का घोटाला किया जा रहा है।

Read More: कांग्रेस MLA डागा के ठिकानों पर IT रेड, 450 करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति का पर्दाफाश

बता दें कि यह पहला मामला नहीं है जब छात्रवृत्ति घोटाले की खबर सामने आई। इससे पहले मंदसौर जिले सहित प्रदेश के कई जिलों के छात्र-छात्राओं ने सीएम हेल्पलाइन नंबर (CM Helpline Number) पर शिकायत दर्ज कराई है। हालांकि इनमें से कई शिकायतों का निराकरण तक नहीं हो पाया है। जिसके पास जिला शिक्षा अधिकारी (District Education Officer) द्वारा कहा गया है कि इस मामले की जड़ तक जाए जाएगा और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इस मामले में मंदसौर के कलेक्टर मनोज पुष्प (manoj pushp) का कहना है कि छात्रवृत्ति की शिकायत उनके पास आ चुकी है। जांच में पता चला है कि बच्चे का नाम 8वीं की छात्रवृत्ति लिस्ट में शामिल है। इसलिए उसे एमबीबीएस के लिए छात्रवृत्ति नहीं मिल रही है। कलेक्टर ने कहा है कि 12वीं की परीक्षा पास कर चुके छात्रों के नाम छात्रवृत्ति लिस्ट में शामिल है जिसके लिए छात्रवृत्ति राशि निकाले जाने की जानकारी सामने आई है। वहीं इस पर जांच कर कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here