सिंधिया ने गरीब मरीज को दिलाए चिरायु से पैसे वापस, मुफ्त में होगा इलाज

योगेंद्र ने अपनी दादी के मुफ्त इलाज के लिए सिंधिया का धन्यवाद अदा किया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आयुष्मान योजना (ayushman yojana) के अंतर्गत इलाज करने से इनकार करने वाले भोपाल के चिरायु अस्पताल (chirayu hospital) से गरीब मरीज का इलाज कराने के लिए राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) को दखल देना पड़ा। सिंधिया ने न केवल अस्पताल प्रबंधन से गरीब मरीज से वसूले गए पैसे वापस दिलाएं बल्कि यह भी सुनिश्चित कराया कि अब उसका इलाज आयुष्मान योजना के अंतर्गत बिल्कुल मुफ्त होगा।

विदिशा निवासी योगेंद्र रघुवंशी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया से गुहार लगाई थी कि वह रविवार को अपनी दादी सरजू बाई को भर्ती कराने चिरायु अस्पताल लेकर गया था। उसके पास सरकार द्वारा जारी किया गया आयुष्मान कार्ड था जिसके अंतर्गत 5 लाख रू तक का इलाज मुफ्त करना अनुबंधित निजी अस्पतालों के लिए बाध्य है जिस श्रेणी में चिरायु भी आता है। योगेंद्र की मानें तो उसकी दादी का इलाज करने से चिरायु प्रबंधन ने साफ इंकार कर दिया और कहा कि पहले पैसे जमा कराने पड़ेंगे।

Read More: कोरोना पर बोले प्रभु राम- दूसरी लहर के आंकलन में हुई चूक पर ब्लैक फंगस के लिए तैयारी पूरी

दादी की तबीयत बहुत खराब थी इसीलिए जैसे तैसे जुगाड़ करके रघुवंशी ने पैसे जमा कराए और 2 लाख रू जमा कराने के बाद ही अस्पताल प्रबंधन ने इलाज शुरू किया। लेकिन इसके बाद योगेंद्र रघुवंशी ने एक वीडियो वायरल करके अपनी पीड़ा जाहिर की जो सिंधिया के पास तक पहुंची और सिंधिया ने मोबाइल पर योगेंद्र को यह आश्वासन दिलाया कि वे अस्पताल प्रबंधन से बातचीत करके उसकी दादी का मुफ्त इलाज सुनिश्चित कराएंगे।

रविवार की शाम सिंधिया ने अस्पताल प्रबंधन से बात की और शाम ढलते ही रघुवंशी के पास अस्पताल प्रबंधन का फोन आ गया। अस्पताल प्रबंधन ने न केवल योगेंद्र रघुवंशी के पैसे लौटाए बल्कि आयुष्मान योजना कार्ड के अंतर्गत उसकी दादी का इलाज मुफ्त करना भी स्वीकार कर लिया। योगेंद्र ने अपनी दादी के मुफ्त इलाज के लिए सिंधिया का धन्यवाद अदा किया है।