सिंधिया का कांग्रेस को जवाब– प्रदेश को भ्रष्टाचार का अड्डा बनाया इसलिए सरकार को उखाड़ फेंका

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश के सभी जनता से कोरोना को गंभीरता से लेने और गाइडलाइन का पालन करने की अपील की।

ज्योतिरादित्य सिंधिया

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज से ठीक 1 साल पहले आज ही के दिन मध्य प्रदेश (madhya pradesh) की सियासी हवा बिगड़ गई थी। कमलनाथ सरकार (kamalnath government) के 28 विधायक ने सरकार के खिलाफ विरोधी स्वर इख्तियार कर लिए थे। वहीं प्रदेश के सबसे चर्चित नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया था। सिंधिया के कांग्रेस छोड़ बीजेपी(bjp)  में जाने के साथ ही अन्य 22 सिंधिया समर्थक विधायकों ने भी कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया। जिसके बाद तत्कालीन कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई थी और कमलनाथ ने मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। कमलनाथ के इस्तीफा देते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चौथी बार सत्ता पर काबिज हुए।

वही अपने 1 साल के कार्यकाल को पूरा करने के बाद आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोपहर के भोजन पर मिल रहे हैं। लंच पॉलिटिक्स पर मिलने के लिए आज राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल पहुंचे। जहां मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कांग्रेस और तत्कालीन कमलनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधा।

कांग्रेस ने 15 महीने में प्रदेश में सिर्फ लोकतंत्र की हत्या की थी- सिंधिया 

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस ने 15 महीने में प्रदेश में सिर्फ लोकतंत्र की हत्या की थी। जनता ने जिस उद्देश्य से कांग्रेस का चुनाव किया था। कांग्रेस उन सभी मुद्दों पर विफल रही थी। इसका परिणाम हमने उपचुनाव के बाद भी देखा। जनता कांग्रेस को स्वीकार करने को तैयार नहीं थी। सिंधिया ने कहा कि आज पूरे देश और प्रदेश में कांग्रेस हाशिए पर खड़ी है। इसकी जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस ही है।

Read More: सीएम शिवराज ने की समीक्षा बैठक, फसल नुकसान को लेकर अधिकारियों को दिए निर्देश

जिस सरकार ने प्रदेश में भ्रष्टाचार का अड्डा बनाया, उस सरकार को उखाड़ फेंका- ज्योतिरादित्य 

इतना ही नहीं राजधानी पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ मिलकर स्मार्ट पार्क में पौधारोपण किया। जहां उन्होंने पारिजात का पौधा लगाया। इस दौरान ज्योतिरादित्य ने कहा कि जिस सरकार ने प्रदेश में भ्रष्टाचार का अड्डा बनाया था। उस सरकार को उखाड़ फेंका गया है। मध्य प्रदेश की जनता की सेवा में आए दिन सीएम शिवराज नए कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं। आज प्रदेश की जनता खुश है।

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में राष्ट्र प्रगति कर रहा है- सिंधिया 

सिंधिया ने कहा कि इबारत में लिखी हुई बात भी अगर कोई पहचान पाए उस दल के बारे में कोई भी टिप्पणी व्यर्थ है। वहीं प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में राष्ट्र प्रगति कर रहा है। इसके साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश के सभी जनता से कोरोना को गंभीरता से लेने और गाइडलाइन का पालन करने की अपील की।

बता दे कि कुछ दिन पहले ही राहुल गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और बड़ा बयान देते हुए कहा था सिंधिया अगर कांग्रेस में होते तो वह मुख्यमंत्री बन सकते थे। जिस पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा था कि राहुल गांधी को उनकी फिक्र करनी चाहिए थी। जब वह कांग्रेस में थे।

वहीं प्रदेश में कमलनाथ की सत्ता पलटने का जिम्मेदार आज भी ज्योतिरादित्य सिंधिया को माना जाता है। जिसके बाद से लगातार कांग्रेस सिंधिया को निशाना बनाती रही है। बीते दिन कांग्रेस के दिग्गज दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए बड़ा बयान दिया था। जहां उन्होंने कहा था कि बीजेपी में जाते ही महाराज भाई साहब बन गए हैं।