मास्टर स्ट्रोक की तैयारी में शिवराज, जल्द हो सकती है यह घोषणा!

बावजूद इसके अवैध शराब की तस्करी पर रोक लगाने में अभी तक सरकारी प्रयास बेहद कारगर साबित नहीं हुए हैं और ऐसे में शिवराज इस मामले को लेकर बेहद सख्त और संजीदा निर्णय ले सकते हैं।

सीएम शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में शराबबंदी (liquor ban) को लेकर चल रही राजनीति के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (shivraj singh chauhan) बड़ी घोषणा कर सकते हैं। मध्यप्रदेश में नशे को नियंत्रित करने के लिए वे लगातार मुहिम चला ही रहे हैं और इस बीच उन्होंने गुरुवार को आम जनता के बीच नशाबंदी को लेकर बड़ा बयान दिया। शिवराज (cm shivraj) ने कहा कि आज से वे रतलाम (ratlam) में एक और अभियान चलाने की घोषणा करते हैं और उन्होंने उपस्थित कार्यकर्ताओं और आम लोगों से हाथ उठाकर नशा न करने और न करने देने का संकल्प दिलाया।

दरअसल मुरैना में जहरीली शराब कांड के बाद अचानक सक्रिय हुई बीजेपी की फायरब्रांड नेता उमा भारती शराबबंदी को लेकर जिस तरह से मुहिम चला रही है उससे एक कदम आगे शिवराज जल्द ही कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं जिसमें वे शराब को नियंत्रित करने या पूर्ण रूप से शराबबंदी जैसा निर्णय ले सकते हैं ।उमा भारती ने शराब और नशे के खिलाफ 8 मार्च से महिला दिवस से नशा मुक्ति अभियान शुरू करने का ऐलान किया है ।उमा भारती की इस मुहिम को चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग का भी समर्थन मिला है।

Read More: Video Viral- अब सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहे सिंधिया के यह वीडियो

हालांकि शिवराज सिंह चौहान शुरू से कहते रहे हैं कि वह नशे के खिलाफ है और किसी भी स्तर पर नशा केवल और केवल बर्बादी की ओर ले जाता है। शिवराज सरकार में पिछले काफी लंबे समय से नई शराब की दुकानें खुलने पर भी रोक लगी हुई है। इतना ही नहीं ,नर्मदा के तट पर खुली हुई दुकानों को भी शिवराज बंद करा चुके हैं। बावजूद इसके अवैध शराब की तस्करी पर रोक लगाने में अभी तक सरकारी प्रयास बेहद कारगर साबित नहीं हुए हैं और ऐसे में शिवराज इस मामले को लेकर बेहद सख्त और संजीदा निर्णय ले सकते हैं।