तीसरी लहर को लेकर सख्त सीएम शिवराज, अधिकारियों को निर्देश- इन जिलों में बदले नियम

सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना नियंत्रण का मूल मंत्र जनता की भागीदारी है। गांव कस्बों और शहरों में मैनेजमेंट समूह सक्रिय रूप से कार्य करें।

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (corona) के घटते संक्रमण दर के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) द्वारा प्रदेश के विभिन्न जिलों की समीक्षा बैठक की जाएगी। इस दौरान सीएम शिवराज(CM Shivraj) ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में इस तरह का प्रयास किया जाए कि कोरोना की तीसरी लहर (third wave) आए ही नहीं। इसके अलावा उन्होंने तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर सख्त निर्देश भी अधिकारियों को दिए।

इतना ही नहीं सीएम शिवराज ने कहा कि अधिक से अधिक कांटेक्ट ट्रेसिंग (contact tracing) की जाए और माइक्रो कंटेनमेंट जोन (micro containment zone) बनाकर संक्रमण की रफ्तार को फैलने से रोका जाए। उन्होंने एक-एक मरीज की पहचान कर उन्हें निशुल्क मेडिकल किट उपलब्ध कराने के कार्य को जारी रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए। सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना नियंत्रण का मूल मंत्र जनता की भागीदारी है। गांव कस्बों और शहरों में मैनेजमेंट समूह सक्रिय रूप से कार्य करें। जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेश के 22813 ग्राम पंचायत में से 20565 ग्राम पंचायत कोरोना मुक्त हो चुके हैं।

Read More: #ArresteRandeepHooda: युविका के बाद अब रणदीप हुड्डा के गिरफ्तारी की मांग, जाने कारण

सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर के संबंध में देश-दुनिया का अध्ययन करें। विशेषज्ञों से चर्चा की जाए और उसके अनुसार तैयारी पूरी की जाए। स्वास्थ्य सुविधाओं को निरंतर बेहतर बनाया जाए। साथ ही बच्चों के लिए अस्पताल में बेड व्यवस्थित किए जाए। ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश के 46 जिलों में पॉजिटिविटी रेट घट के 5% से कम रह गई है जबकि 6 जिलों में साप्ताहिक पॉजिटिव रेट 8, 6 और 5% रिकॉर्ड की गई है। सीएम शिवराज में 5% से अधिक पॉजिटिविटी रेड वाली जिलों में लगातार कड़ाई के निर्देश दिए हैं।

अधिक संक्रमित जिलों के कलेक्टरों को निर्देश देते हुए सीएम शिवराज ने कहा कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए हर नीति नियम का इस्तेमाल किया जाए। इसके साथ ही साथ संक्रमण चेन को ब्रेक करने के लिए जिस भी सख्ती की जरूरत पड़े वह तैयार किया जाए। टीकाकरण अभियान पर विशेष जोर देते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि टीकाकरण संक्रमण को हराने का सबसे सटीक और बेहतरीन उपाय हैं। प्रदेश के अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण कराया जाए। टीकाकरण के लिए कई तरह के अभियान मध्य प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे हैं।