कमलनाथ पर लटकी तलवार, नरोत्तम ने इओडब्ल्यू से जांच के दिए संकेत

सरकार के इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने का मन बना चुकी है और आने वाले समय में कमलनाथ की। मुश्किलें बढ़ सकती हैं

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अप्रैल 2019 मे मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) मे इनकम टैक्स रेड (Income Tax Raid) के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल सोमवार को देश के एक प्रतिष्ठित अंग्रेजी चैनल ने इस बात का खुलासा किया था कि इनकम टैक्स विभाग ने इस रेड से संबंधित 408 पेज का एक दस्तावेज तैयार किया है। इसमें मध्य प्रदेश से 2016 से 2019 तक कांग्रेस के दिल्ली मुख्यालय 106 करोड़ पर भेजे जाने के सबूत मिले हैं।

इन दस्तावेजों में कमलनाथ, उनके सहयोगी आरके मिगलानी सहित मध्य प्रदेश में कई आईपीएस अधिकारियों के भी नाम है जिन्होंने इस पैसे के लेनदेन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके साथ-साथ के परिवहन,आबकारी सहित मध्य प्रदेश के एक दर्जन से ज्यादा विभागो द्वारा कमलनाथ को दिये पैसे का हिसाब इन दस्तावेजों के अंदर है। चैनल के खुलासे के बाद मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि हम तो पहले से ही कहते रहे हैं कि कमलनाथ सरकार दलालों की सरकार थी और वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया था ।

Read More: कांग्रेस हेडक्वार्टर पहुंचे 106 करोड़ रुपए का खुलासा, नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ पर साधा निशाना

नरोत्तम ने कमलनाथ की तुलना महमूद गजनबी से करते हुए कहा कि जिस प्रकार वह देश को लूट के ले गया उसी प्रकार कमलनाथ मध्य प्रदेश का पूरा पैसा राहुल गांधी के विदेशी यात्राओं और गांधी परिवार की वेलफेयर के लिए ले गये। नरोत्तम ने कहा है कि आईटी विभाग से संपर्क करके विधि विशेषज्ञों की राय लेकर इस मामले को राज्य आर्थिक अपराध अनुसंधान कार्य सौंपा जा सकता है ।सरकार के इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने का मन बना चुकी है और आने वाले समय में कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।