Technology: आज से बदल जाएंगे कॉलिंग के नियम, 11 डिजिट का होगा मोबाइल नंबर

इस मामले में बीएसएनएल (BSNL) के चेयरमैन पीके पुरवर ने भी कहा है कि ग्राहकों को इस सुचना से अवगत कराने की शुरुआत की जा चुकी है जबकि जियो ने हर कॉलिंग के साथ ग्राहकों को यह याद दिलाना शुरू कर दिया है

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। भारत में अब से मोबाइल नंबरों में एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है। जहां मोबाइल नंबर 10 अंक की बजाय 11 अंक के हो जाएंगे। इसके साथ ही मोबाइल नंबर (mobile number) पर कॉल करने के तरीके भी बदल दिए गए है। इस मामले में टेलीकॉम डिपार्टमेंट (Telecom department) ने 20 जनवरी को एक सर्कुलर (Circular) जारी किया था। जिसके मुताबिक अगर आप लैंडलाइन (landline) से किसी भी मोबाइल नंबर पर फोन करते हैं तो इससे पहले आपको ‘0’ लगाना होगा। ऐसा नहीं करने की स्थिति में आप मोबाइल नंबर पर कॉल नहीं कर पाएंगे।

दरअसल भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (Telecom regulatory authority of india) ने इसके लिए सिफारिश की थी। जिसके बाद दूरसंचार विभाग द्वारा इसे स्वीकार कर लिया गया है। बता दे कि भारत में मोबाइल नंबरों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। जिससे इस नियम के बाद टेलीकॉम कंपनियों को अधिक नंबर बनाने में सुविधा होगी।

Read More: तीन दिवसीय ग्वालियर दौरे पर ज्योतिरादित्य सिंधिया, इन मुद्दों पर करेंगे चर्चा

संचार मंत्रालय का कहना है कि दूरसंचार विभाग के इस कदम से भविष्य में कई नए नंबर की संभावना बढ़ जाएगी। वही इस एक कदम से 253 करोड नए नंबर बनाए जा सकेंगे। इस मामले में बीएसएनएल (BSNL) के चेयरमैन पीके पुरवर ने भी कहा है कि ग्राहकों को इस सुचना से अवगत कराने की शुरुआत की जा चुकी है जबकि जियो (JIO) ने हर कॉलिंग के साथ ग्राहकों को यह याद दिलाना शुरू कर दिया है कि 15 जनवरी से लैंडलाइन से मोबाइल नंबर पर फोन करने से पहले 0 लगाना आवश्यक होगा।

हालांकि यह नियम फिलहाल अपने क्षेत्र से बाहर के नंबर पर कॉल करने के लिए की जा रही है। दूरसंचार विभाग के एक निर्देश के तहत आपको अपने लैंडलाइन से किसी मोबाइल पर फोन मिलाते समय नंबर से पहले 0 डायल करना होगा।बाद में इसे बढ़ाने की भी संभावना है। वही कहा यह भी जा रहा है कि फ्यूचर में टेलीकॉम कंपनियां 11 नंबर का मोबाइल नंबर भी जारी कर सकती है।