ट्विटर की दरियादिली, भारत ‘कोविड-19 रिलीफ’ हेतु दान किये 15 मिलियन डॉलर्स

ट्विटर के सीईओ जैक पैट्रिक डार्सी ने सोमवार को ट्वीट करके बताया कि उन्होंने भारत की मदद के लिए 145 मिलियन डॉलर की धनराशि दान की है।

ट्विटर

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। ट्विटर ने इस आपदा काल (disaster phase) में भारत (india) की बहुत बड़ी मदद की है। इस समय भारत बहुत कठिनाइयों से गुजर रहा है। ऐसे में सभी तरफ से भारत की मदद (help) के लिए हाथ आगे आ रहे हैं। अब माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर (twitter) ने भी कोरोना आपदा काल में भारत को आर्थिक मदद (monetary help) प्रदान करने का कदम उठाया है। ट्विटर ने भारत को 15 मिलियन डॉलर्स की धनराशि दान की है।

यह भी पढ़ें… हम जीतेंगे – Positivity Unlimited व्याख्यान माला के जरिये बनेगा सकारात्मक वातावरण

ट्विटर के सीईओ जैक पैट्रिक डार्सी ने सोमवार को ट्वीट करके बताया कि उन्होंने भारत की मदद के लिए 145 मिलियन डॉलर की धनराशि दान की है। ट्विटर ने ये धनराशि भारत में चल रहे तीन गैर-सरकारी संस्थान को दी है। इनमें केयर, एड इंडिया और सेवा इंटरनेशनल यूएसए शामिल हैं। बता दें कि ट्विटर ने केयर संस्था को 10 मिलियन डॉलर वहीं एड इंडिया और सेवा इंटरनेशनल यूएसए संस्था को ढाई – ढाई मिलियन डॉलर की धनराशि दान दी है।

ट्विटर से मिली इस आर्थिक मदद के लिए तीनों ही संस्थानों ने ट्विटर के सीईओ जैक पैट्रिक डार्सी का आभार व्यक्त किया है। “सेवा इंटरनेशनल एक हिन्दू धर्म पर आधारित , मानवीय, बिना लाभ कमाने वाली निजी संस्था है। ट्विटर से मिली इस मदद के ज़रिए हम कोरोना संबंधी जीवन रक्षक उपकरण जैसे ऑक्सीजन कॉन्संट्रेटर, वेंटिलेटर, BiPAP, CPAP, आदि ले सकेंगे और कई लोगों की जानें बचा पाएंगे।” ऐसा सेवा इंटरनेशनल, सेन फ्रांसिस्को आधारीत कंपनी ने एक बयान में कहा।

यह भी पढ़ें… चीन का Glass bridge तेज आंधी में टूटा, 330 फीट ऊंचाई पर हवा में लटका टूरिस्ट

वहीं केयर संस्था ने कहा कि , ” ट्विटर द्वारा मिली धनराशि से हम इस आपदा के समय में अस्थाई कोविड केयर सेंटर बनवाके, ऑक्सीजन की कमी को पूरा करके, फ्रंटलाइन वर्कर्स को पीपीई किट्स और आपातकालीन उपकरण उपलब्ध करवा के, वैक्सिनेशन में सहयोग देके इस आपदा काल में भारत सरकार की मदद कर सकेंगे।