अमेरिका में 12-15 वर्ष के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन को मिली मंजूरी

यूएस फ़ूड ऐंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ( US FDA) ने फाइजर (pfizer) और बायोएनटेक (bioNtech) द्वारा बनाई गई वैक्सीन को 12-15 साल के बच्चों के लिए आपातकालीन मंजूरी दे दी है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना महामारी (corona pandemic) ने अमेरिका (america) जैसे एडवांस और बलशाली (powerful) देश को भी नहीं छोड़ा। कोरोना से पीड़ित यूं तो सारा विश्व है लेकिन कुछ देशों में कोरोना ने आतंक मचा कर रख दिया था और कई देशों में अभी भी यही हाल है। इसमें एक देश संयुक्त राष्ट्र अमेरिका भी है। अमेरिका में सबसे ज़्यादा कोरोना संक्रमण के मामले और कोरोना से हुई मौतों के आंकड़े सामने आए हैं। हालांकि अमेरिका में वैक्सीनेशन (vaccination) का काम तेजी से चल रहा है और अब एक और अच्छी खबर सामने आ रही है। यूएस फ़ूड ऐंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ( US FDA) ने फाइजर (pfizer) और बायोएनटेक (bioNtech) द्वारा बनाई गई वैक्सीन को 12-15 साल के बच्चों के लिए आपातकालीन मंजूरी दे दी है।

यह भी पढ़ें… इंदौर के अस्पताल में म्यूजिक थेरेपी से कोविड मरीजों का किया जा रहा तनाव दूर, देखें वीडियो

16 साल से अधिक उम्र वाले लोगों के लिए अमेरिका में पहले से ही वैक्सिनेशन चालू है। और अब शरद ऋतु आने तक 12-15 साल के बच्चों के लिए भी वैक्सीन को मंजूरी मिल गयी है। वैक्सीन का डोज़ जिस प्रकार 16 साल से अधिक आयु वाले लोगों को लग रहा है उसी प्रकार 12-15 साल के बच्चों को लगेगा। यानी कि 3 हफ्तों के अंतराल में वैक्सीन के 2 डोज़ दिए जाएंगे।

US FDA के सेंटर फॉर बायोलॉजिक्स इवैल्यूएशन ऐंड रिसर्च के निर्देशक डॉ पीटर मार्क्स ने बताया कि कल US centres for Disease Control and Prevention की मीटिंग होगी। उसमें यदि वैक्सीन एडवाइजरी कमेटी ने मंजूरी दे दी तो गुरुवार से ही 12-15 उम्र वाले बच्चों को वैक्सीन लगनी चालू हो जाएगी।

यह भी पढ़ें…. KBC 13: अमिताभ बच्चन का यह रहा पहला सवाल- क्या आपको पता है इसका जवाब?

अमेरिका के जनगणना आंकड़ो के अनुसार वहाँ की 20% आबादी बच्चों की है और यदि अमेरिका को कोरोना वायर्स के खिलाफ herd immunity बनानी है तो कम से कम अमेरिका की 70% से 85% आबादी को वैक्सिनेट होना होगा।