MLA रामबाई के पति गोविन्द सिंह का Video Viral, कही गिरफ़्तारी की बात, पुलिस कर रही जांच

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद विशेष टीम विधायक पति को ढूंढने विधायक के घर भी पहुंची थी। जिसके बाद विधायक रामबाई ने मीडिया के जरिए अपने पति से सरेंडर करने की अपील की थी।

दमोह, आशीष जैन दमोह से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। सुप्रीम कोर्ट (supreme court) के निर्देश के बाद पुलिस ने तत्परता दिखाई। जहां आखिरकार बसपा विधायक रामबाई (rambai) के प्रति गोविंद सिंह परिहार (govind singh parihar) ने पुलिस (police) के सामने सरेंडर (surrender) कर दिया है। गोविन्द सिंह खुद वायरल वीडियो में ये बात कह रहे हैं।

बताया जा रहा है कि दमोह के पथरिया से बसपा विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह खुद यह दावा कर रहे हैं भिंड (bhind) में उन्होंने सरेंडर किया है। वही पुलिस के सामने सरेंडर करने से पहले गोविंद सिंह परिहार ने वीडियो भी जारी किया है। बता दे कि वीडियो में गोविंद सिंह ने कहा कि वह जल्द पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर रहे हैं। वही वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस वायरल वीडियो की जांच कर रही है।

वीडियो 1 दिन पहले 27 मार्च को बताया जा रहा है। जिसमें विधायक राम बाई के पति गोविंद सिंह खुद यह दावा कर रहे हैं कि उन्होंने 27 मार्च को सुबह 5:00 बजे भिंड पुलिस के सामने सरेंडर किया है। आरोपी द्वारा वीडियो केवल दिखावे के लिए जारी किया गया है क्योंकि सरेंडर की बात अगर सच होती तो दमोह पुलिस द्वारा इस बात की सूचना दी जाती।

Read More: MP News: एक बार फिर टल सकते हैं मप्र में निकाय और पंचायत चुनाव, आयोग ने कही ये बात

वायरल वीडियो में आरोपी गोविंद सिंह परिहार द्वारा कहा जा रहा है कि उनकी पत्नी ने सरेंडर की अपील की थी। इसलिए वह भिंड जिले में किसी भी थाने में सरेंडर करने जा रहे हैं। इस वीडियो में गोविंद सिंह ने खुद को निर्दोष बताया है और साथ यह दावा किया है कि अगर उन पर दोष साबित होता है तो उन्हें चौराहे पर फांसी पर लटका दिया जाए।

इस मामले में दमोह एएसपी शिव कुमार सिंह का कहना है कि वायरल वीडियो उन्हें उनके द्वारा भी देखा गया है। लेकिन आरोपी ने किस थाने में गिरफ्तारी दी गई है। इसके बारे में जानकारी नहीं है पुलिस द्वारा वायरल वीडियो की जांच की जा रही है। साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी की सूचना पर भी जांच जारी है।

ज्ञात हो कि गोविंद सिंह परिहार देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के आरोपी हैं जहां पुलिस लंबे समय से उनकी तलाश कर रही थी। वहीं सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद विशेष टीम विधायक पति को ढूंढने विधायक के घर भी पहुंची थी। जिसके बाद विधायक रामबाई ने मीडिया के जरिए अपने पति से सरेंडर करने की अपील की थी।