क्या है इस मुलाकात के मायने! MP उपचुनाव के बीच नरोत्तम-अजय सिंह के बीच बंद कमरे में गुफ्तगू

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में इस समय कांग्रेस (congress) और बीजेपी (bjp) के बीच उपचुनाव (MP By-election) का सियासी संग्राम छिड़ा हुआ है। इसके बीच बुधवार को गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह राहुल भैया के बीच आधे घंटे की मुलाकात में प्रदेश में एक बार फिर सियासी हलचल बढ़ा दी है।

कांग्रेस के कद्दावर नेता अजय सिंह बुधवार को गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा से मिलने उनके चार ईमली स्थित शासकीय आवास पर पहुंचे। दोनों के बीच लगभग आधे घंटे तक बातचीत हुई। हालांकि बातचीत का लब्बोलुबाब सामने नहीं आ पाया लेकिन इस मुलाकात में प्रदेश में सियासी भूचाल ला दिया।

Read More: Narottam का तंज, क्या सूट-बूट पहन कर पैदा हुए थे Rahul Gandhi

दरअसल इस समय उपचुनावों का प्रचार जोरों पर है और कांग्रेस और बीजेपी दोनो ही खंडवा लोकसभाव जोबट, रैगांव और पृथ्वीपुर विधानसभा जीतने के लिए पूरी कोर कसर से लगे हुए हैं। इन सबके बीच अजय सिंह अचानक क्यों नरोत्तम के यहा पहुंचे, यह सवाल उठना लाजमी है और यह इसलिए भी क्योंकि कुछ दिन पहले भी दोनों के बीच मुलाकात हो चुकी है। उस समय दोनों ने ही यह बताया था कि अजय सिंह अपने क्षेत्र की समस्याओं के बारे में चर्चा करने आए थे। लेकिन बुधवार की हुई मुलाकात की वजह अभी तक सामने नहीं आयी है।

राजनीतिक पंडित इस मुलाकात को बेहद महत्वपूर्ण मांग मान रहे हैं क्योंकि कांग्रेस में इस समय जिस तरह से असंतोष चरम पर है और अरुण यादव व एनपी प्रजापति जैसे नेता उपेक्षा महसूस कर रहे हैं, वही अजय सिंह के समर्थक भी यह मानते हैं कि व्यापक जनाधार व प्रभाव होने के बावजूद कमलनाथ अजय सिंह की क्षमताओं का उस तरह उपयोग नहीं कर रहे जिस तरह होना चाहिए। ऐसे में आने वाले दिन में अजय सिंह क्या रुख अपनाते हैं, यह तो समय ही बताएगा लेकिन फिलहाल इस मुलाकात को लेकर कांग्रेस में हड़कंप है।