Bank FD Rate: इन 7 बैंकों के ग्राहकों की हुई चांदी, एफडी पर मिल रहा है आकर्षक ब्याज, जानें डिटेल्स

पंजाब नेशनल बैंक, यस बैंक समेत कई बैंकों ने नए साल पर फिक्स्ड डिपॉजिट के ब्याज दरों में इजाफा किया है। इनमें से कई बैंक 7 फीसदी से अधिक का ब्याज दे रहे हैं।

Bank FD Rate: फिक्स्ड डिपॉजिट इनवेस्टमेंट के सुरक्षित और सही विकल्पों में से एक है। यदि आप भी एफडी में निवेश करनके मुनाफा कमाने चाहते हैं तो यह खबर आपके बेहद काम आ सकती  है। कई बैंकों ने  अपने  एफडी के स्कीम पर ब्याज दरें बढ़ाई है। यह सिलसिला साल 2022 से ही शुरू हो चुका है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा लगातार रेपो रेट में इजाफा करने के बाद बैंकों द्वारा इंटरेस्ट रेट में वृद्धि हो रही है। नए साल में कई बाइकों ने एफडी के ब्याज दरों में वृद्धि की है।

कोटक महिंद्रा बैंक

इस बैंक ने बस कुछ दिनों पहले ही अपने अलग-अलग एफडी स्कीम पर ब्याज दरों की घोषणा की है 4 जनवरी से नई दरें लागू भी हो चुकी हैं। 555 दिनों की योजना पर आमजन को 7.30 फीसदी का ब्याज दे रही है। वहीं वरिष्ट नागरिकों को इसपर 7.70 फीसदी ब्याज मिलेगा।

यस बैंक एफडी

यस बैंक ने एफडी  पर नए ब्याज दरों की घोषणा 3 जनवरी  को ही कर दी है। 7-10 साल वाली एफडी  पर आमजन को 3.25 फीसदी से लेकर 7 फीसदी का ब्याज मिल रह है। वहीं सिनीयन सिटीजन को इसके लिए अधिकतम ब्याज 3.75 प्रतिशत से लेकर 7.75 प्रतिशत ब्याज मिल रहा है।

बंधन बैंक एफडी

हाल ही में बैंक ने अपने एफडी के ब्याज दरों में बदलाव  करने की घोषणा की है। 7 दिन -10 साल के एफडी पर अब 3% से लेकर 5.85% का ब्याज मिल रहा है। वहीं वरिष्ट नागरिकों को समान योजना पर 3.75% से लेकर 6.65 प्रतिशत के ब्याज  दर है। वहीं 600 दिनों की एफडी पर 7.50% का ब्याज मिल रहा  है।

पंजाब नेशनल बैंक

पीएनबी ने फिक्स्ड  डिपॉजिट पर ब्याज दरें बढ़ा दी है। साथ ही सेविंग अकाउंट पर भी इंटररेस्ट रेट बढ़ाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक सेविंग अकाउंट  में 100 करोड़ से अधिक की राशि होने पर 25 बेसिस पॉइंट का ब्याज दे रहा है। वहीं विभिन्न अवधि वाली एफडी पर 50 बेसिस पॉइंट अधिक ब्याज देने की घोषणा भी की है।

इन बैंकों ने भी बढ़ाया एफडी पर ब्याज

नए साल पर अन्य कई बैंकों ने भी Fixed Diposite के ब्याज दरों में वृद्धि की है। इस लिस्ट में इंडियन ओवरसीज बैंक, पंजाब एंड सिंह बैंक और कर्नाटक बैंक शामिल हैं। वहीं इससे पहले 2022 के अंत में एचडीएफसी, एसबीआई और देश अन्य प्रमुख बैंकों ने भी ब्याज दरों में वृद्धि की थी।