लाइफ पार्टनर से बिजनेस पार्टनर बनने तक का सफर, बेहद दिलचस्प है रितिक जेकप और श्रीजान की Success Story

इन दिनों इस जोड़ी ने काफी धमाल मचा कर रखा है। इनके स्टार्टअप का नाम इतना ही यूनिक है, जितना उनकी लव स्टोरी भी। तो चलिए आज हम आपको रितिक जेकप और श्रीजान की सक्सेस स्टोरी बताते हैं।

Hrithik Jekap and Srijaan Success Story : कहते हैं प्यार अगर अटूट हो तो वह सभी जंग को बहुत ही आसानी से जीत सकता है। जंग का तात्पर्य यहां पर यह है कि चाहे वह जिंदगी की गाड़ी हो या फिर किसी मुश्किल हालात में एक-दूसरे का साथ हो, हर विषम परिस्थिति को बहुत ही आसानी से हल किया जा सकता है। ऐसी ही दिलचस्प सक्सेस स्टोरी आज हम आपको एक कपल की बताने जा रहे हैं, जो आगरा और असम के रहने वाली हैं। जिनकी कहानी लव स्टोरी से शुरू हुई और लाइफ पार्टनर से बिजनेस पार्टनर बनने तक का सफर उनका बहुत ही मजेदार रहा है। दरअसल, इन दिनों इस जोड़ी ने काफी धमाल मचा कर रखा है। इनके स्टार्टअप का नाम इतना ही यूनिक है, जितना उनकी लव स्टोरी भी। तो चलिए आज हम आपको रितिक जेकप और श्रीजान की सक्सेस स्टोरी बताते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से…

Momos Side Effects

फिल्मी लगती है स्टोरी

आगरा और असम के रहने वाले एक खूबसूरत कपल की कहानी, जो लड़ाई-झगड़े से दोस्ती में बदल गई और फिर उस दोस्ती ने प्यार का रूप ले लिया। इस कपल ने अपनी प्रेम कहानी को एक नई दिशा दी और एक साथ मिलकर जीवनसाथी बनने के बाद अब बिजनेस पार्टनर भी बन गए हैं। यह कहानी फिल्मी लग सकती है, लेकिन यह पूरी तरह से हकीकत है। इस कपल ने एक साल पहले एमडी जैन इंटर कॉलेज के बगल में सड़क किनारे ‘स्ट्रेस मोमोज’ (Stress Momos) नाम से एक स्टार्टअप शुरू किया। ‘स्ट्रेस मोमोज’ नाम जितना यूनिक है, उतने ही अनोखे हैं उनके मोमोज हैं। वे अपने यहां मिलने वाले मोमोज को अलग-अलग नामों से बुलाते हैं, जैसे-कूल मोमोज, एंग्री मोमोज, फैटी मोमोज, आदि। बता दें कि हर दिन शाम को उनके मोमोज खाने के लिए लोगों की भीड़ जुटती है। उनके मोमोज न केवल स्वादिष्ट हैं, बल्कि उनकी क्रिएटिविटी और मेहनत ने उन्हें खास बना दिया है।

मजाक में कही थी ये बात

बता दें कि शादी से पहले मजाक में श्रीजान ने रितिक से कहा था कि अगर उन्हें कोई जॉब नहीं मिली, तो वह सड़क किनारे मोमोज बेचेंगे जोकि अब बिल्कुल सच हो गया है। दरअसल, दोनों ने होटल मैनेजमेंट किया है और उनकी पहली मुलाकात जॉब के दौरान हैदराबाद में हुई थी। वहां तकरार से शुरू हुई यह कहानी दोस्ती, प्यार और शादी में बदल गई। शादी के बाद श्रीजान ने जॉब छोड़ दी। इसके बाद वह अपने खुद का एक स्टार्टअप शुरू करना चाहती थी, लेकिन उन्हें कोई नाम नहीं मिल रहा था। इस कारण वह काफी स्ट्रेस में रहने लगी थी। जिसके बाद उन्होंने इस नाम से स्ट्रेस मोमोज की शुरुआत की।

स्टार्टअप का प्रॉफिट

इस स्टार्टअप से नेट प्रॉफिट की बात करें, तो यह लाखों में है। आज यहां पर आठ लोगों की टीम काम करती है। बता दें कि श्रीजान खुद स्टार्टअप की को फाउंडर है। उनके मोमोस का स्वाद लोगों की जुबान पर इस कदर चढ़ चुका है कि वह हर शाम उनके आने का इंतजार करते हैं। हालांकि, श्रीजान को अच्छे से हिंदी बोलने भी नहीं आती इसलिए वह ज्यादातर इंग्लिश में बात करती है, जिससे लोग चौक जाते हैं और लोगों का पहला सवाल यही होता है कि आप कहां से हैं और इस बिजनेस में कैसे आई। फिलहाल, इस जोड़ी को ग्राहकों का खूब प्यार मिल रहा है। श्रीजान और रितिक की इस सफल कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है कि अगर किसी के पास सही प्रेरणा और उत्साह हो, तो वे किसी भी मुश्किल से निपट सकते हैं और सफलता की ऊंचाइयों तक पहुंच सकते हैं।


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है।पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।