Gold Hallmarking: 15 जून तक बेच सकेंगे बिना हॉलमार्किंग का सोना, जानें आज का भाव

केन्द्र सरकार (Central Government) ने सोने के आभूषणों (Gold jewellery) और कलाकृतियों की 1 जून से अनिवार्य हॉलमार्किंग (Gold Hallmarking) की समय सीमा बढ़ा दी है।

Gold Silver Rate

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सोना खरीददारों और व्यापरियों को केंद्र सरकार ने बड़ी राहत दी है। केन्द्र सरकार (Central Government) ने सोने के आभूषणों (Gold jewellery) और कलाकृतियों की 1 जून से अनिवार्य हॉलमार्किंग (Gold Hallmarking) की समय सीमा बढ़ा दी है। नई डेडलाइन के तहत अब 1 जून की बजाय देशभर में बिना हॉलमार्किंग वाले गहने 15 जून तक बिक सकेंगे। इतना ही नहीं  20 कैरेट और 24कैरेट सोने के गहनों को भी हॉलमार्किंग श्रेणी में शामिल किया गया है।क्योंकि 20 कैरेट सोने के गहने ज्यादातर उत्तर भारत में बेचे जाते हैं जबकि 24 कैरेट सोने के गहने महाराष्ट्र और कुछ अन्य राज्यों में बेचे जाते।

यह भी पढ़े.. WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी ना मानने वालों के लिए बड़ी खबर

केन्द्र सरकार के नए नियमानुसार,  1 जून से सोने की खरीदी में हॉलमार्किंग (Gold Hallmarking 2021) अनिवार्य की जानी थी, लेकिन सोना व्यापारियों और CAIT द्वारा इस समय सीमा को बढ़ाने की मांग की गई थी, जिसे केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने स्वीकार कर लिया है।  नई डेडलाइन के तहत अब एक जून की बजाय देशभर में बिना हॉलमार्किंग वाले गहने 15 जून तक बिक सकेंगे, लेकिन  इसके बाद सोना व्यापारी (Gold business Man)बिना हॉलमार्क के गहने नहीं बेच सकेंगे।अगर बावजूद इसके उन्होंने ऐसा किया तो एक लाख रुपए तक का जुर्माना और 5 साल की सजा का प्रावधान है।

यह भी पढ़े.. MP College: कॉलेज छात्रों के लिए बड़ी खबर, राज्यपाल ने कुलपतियों को दिए ये निर्देश

दरअसल,  सोमवार को केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के पीयूष गोयल की अध्यक्षता में हुई बैठक में सर्राफा व्यापार के विभिन्न संघों, हॉलमार्किंग केंद्रों, देश भर के ज्वैलर्स, सोने के कारोबार के व्यापार और निर्यात निकायों के अलावा उपभोक्ता मामले विभाग और BIS के अधिकारियों ने भाग लिया और सुझाव रखे।इसमें मप्र सराफा एसोसिएशन ने भी भाग लिया। इस बैठक में एसोसिएशन द्वारा रखें गए सुझाव सोने के गहनों की हालमार्किंग श्रेणी में 20 और 24 कैरेट के गहनों को शामिल किया जाए,  को मंजूरी दे दी। एसोसिएशन ने झाबुआ, अलीराजपुर और शहडोल जैसे इलाकों का हवाला देते हुए मंत्री का ध्यान मौजूदा कानून की विसंगतियों की ओर दिलाया था।

देशभर में 4 लाख ज्वैलर्स और 900 हॉलमार्किंग सेंटर

बता दे कि  वर्तमान में केवल 30 फीसदी भारतीय स्वर्ण आभूषण हॉलमार्क हैं । पूरे भारत में करीब 4 लाख ज्वैलर्स हैं और 900 हॉलमार्किंग सेंटर हैं।वही  मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में करीब 15 हजार सोने-चांदी की दुकानें हैं और 18 हॉलमार्किंग सेंटर। यह सेंटर भी सिर्फ 6 जिलों इंदौर, भोपाल, रतलाम, जबलपुर, उज्जैन और ग्वालियर में हैं। इस व्यवस्था के लागू होते ही देश में जून महीने से सिर्फ 22 कैरट (22 carat gold), 18 कैरट और 14 कैरट के सोने गहने बिकेंगे। जिनमें बीआईएस की हॉलमार्किंग होगी।

जाने क्या है आज का भाव

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार को सोना 102 रुपए की गिरावट के साथ 48,025 रुपए प्रति 10 ग्राम हो गया। सोमवार को यह 48,127 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी 269 गिरकर 70,810 रुपए प्रति किलो हो गई। पिछले दिन यह 71,079 रुपए प्रति किलो पर बंद हुई थी।

मंगलवार को मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर सोना जून वायदा 0.21 और चांदी जुलाई वायदा 0.42 फीसदी में गिरावट देखी गई। MCX पर मंगलवार को सोना जून वायदा 103 रुपये टूटकर 48,450 रुपए प्रति 10 ग्राम रहा। ग्लोबल मार्केट में स्पॉट गोल्ड की कीमत 0.30 फीसदी गिरकर 1,876.24 डॉलर प्रति औंस हो गई।वही चांदी जुलाई वायदा की कीमत 304 रुपये गिरकर 71,507 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। ग्लोबल मार्केट में चांदी की कीमत 0.7 फीसदी फिसलकर 27.60 डॉलर प्रति औंस रही।