CUET UG 2024: सीयूईटी यूजी परीक्षा के दौरान छात्रों को बांटे गए गलत पेपर, 200 से ज्यादा स्टूडेंट्स 29 मई को देंगे दोबारा परीक्षा

CUET Exam 2024: सीयूईटी यूजी परीक्षा 2024 में परीक्षा के दौरान पेपर लीक नहीं हुआ बल्कि गलत प्रश्न पत्र बांटे गए थे। वहीं अब 220 छात्रों की परीक्षा 29 मई को दोबारा से होगी।

CUET Exam 2024: राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी यानी एनटीए ने सीयूईटी यूजी परीक्षा 2024 के दौरान पेपर लीक की खबरों को गलत करार दिया है। इसमें बताया गया कि पेपर लीक नहीं हुआ बल्कि यूपी के कानपुर के एक परीक्षा केंद्र पर गलत प्रश्न पत्र बांट दिए गए थे। जिस वजह से 220 प्रभावित छात्रों की परीक्षा 29 मई को दोबारा से कराई जाएगी। बता दें कि दिल्ली परीक्षा केंद्रों के लिए भी सीयूईटी यूजी परीक्षा 29 मई को आयोजित है।

पेपर लीक नहीं गलत पेपर मिला

दरअसल, उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक परीक्षा केंद्र पर सीयूईटी यूजी परीक्षा 2024 के पेपर लीक होने की खबर सामने आ रहा थी। जिसपर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने कहा कि ये पेपर लीक नहीं बल्कि गलत प्रश्न पत्र वितरण का मामला था। एनटीए ने बताया कि कानपुर केंद्र पर गलती से हिंदी माध्यम के छात्रों को अंग्रेजी प्रश्न पत्र दे दिया गया था। किसी भी तरह का कोई भी पेपर लीक नहीं हुआ था। वहीं अब प्रभावित 220 से अधिक छात्रों के लिए 29 मई को फिर से परीक्षा कराई जाएगी।

दिल्ली में भी 29 मई को होना है पेपर

बता दें कि एनटीए 29 मई को दिल्ली केंद्रों के लिए भी सीयूईटी यूजी परीक्षा का आयोजन करेगा। दिल्ली केंद्रों के लिए 15 मई को होने वाली परीक्षा किसी कारणवश एक रात पहले ही टाल दी गई थी। वहीं, अब दोबारा से होने वाली परीक्षा की तारीख भी 29 मई रखी गई है।

हाइब्रिड मोड में हो रही परीक्षा

देश की सबसे बड़ी परीक्षा सीयूईटी यूजी 2024 को पहली बार हाइब्रिड मोड में आयोजित किया जा रहा है। जहां पर ऑफलाइन टेस्ट 15 मई से 19 मई के बीच आयोजित किए जाएंगे। वहीं इसके बाद अन्य विषयों के लिए कंप्यूटर आधारित टेस्ट यानी सीबीटी 21 मई से 24 मई के बीच आयोजित किए जाएंगे।

नीट में भी बांटे गए थे गलत प्रश्न पत्र

यह पहली घटना नहीं है बीते दिनों ऐसा ही एक मामला नीट परीक्षा के दौरान सामने आया था। जहां पक राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा स्नातक परीक्षा में राजस्थान के सवाई माधोपुर के एक परीक्षा केंद्र पर हिंदी माध्यम के छात्रों को अंग्रेजी माध्यम का प्रश्न पत्र दे दिया गया था।


About Author
Saumya Srivastava

Saumya Srivastava