डॉ नरोत्तम मिश्रा की नेताओं को नसीहत , आज सेवा का मौका है कर लो

इसकी चैन तो तोड़नी पड़ेगी क्योंकि यदि एक भी संक्रमित व्यक्ति रह गया तो वो वापस पूरे समाज को संक्रमित कर सकता है

दतिया, सत्येन्द्र रावत।  कोरोना संकट के दौर में जहाँ अपने अपनों से दूर भाग रहे हैं ऐसे में मध्यप्रदेश सरकार के कुछ मंत्री मरीजों का हौसला बढ़ाने के लिए अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों के पास खुद चलकर जा रहे हैं और उन्हें भरोसा दिला रहे हैं कि सरकार आपके साथ है, डॉक्टर्स मेडिकल स्टाफ आपकी सेवा  में लगा है आप जल्दी ठीक हो जाओगे। इन्हीं में से एक हैं गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra)।

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra) ने दतिया दौरे के दौरान मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड, जिला अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों के पास पहुंचकर उनका हालचाल जाना। भरी गर्मी में पीपीई किट पहनकर डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra) मरीजों के पलंग के पास गए और मरीजों से उनका नाम, गांव का नाम पूछा, उनसे पूछा कि यहाँ दवा, खाना आदि मिलता है कि नहीं जिस पर मरीजों ने स्वीकृति में सिर हिलाया। निरीक्षण में डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra) के साथ दतिया कलेक्टर संजय कुमार, पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौर, डॉ हेमन्त जैन , बलदेवराज बल्लू भी थे।

डॉ नरोत्तम मिश्रा की नेताओं को नसीहत , आज सेवा का मौका है कर लो डॉ नरोत्तम मिश्रा की नेताओं को नसीहत , आज सेवा का मौका है कर लो

मीडिया से बात करते हुए डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra)ने कहा कि मैं जब भी यहाँ आता हूँ मरीजों का हालचाल जानने अस्पताल जाता हूँ। ये पता करता हूँ कि उन्हें कोई परेशानी तो नहीं है। रेमडेसिवीर इंजेक्शन, दवा ऑक्सीजन किसी इलाज में कोई दिक्कत तो नहीं है।  ये हमारी जिम्मेदारी है जिसे मैं निभाता हूँ।  उन्होंने कहा कि कोरोना मरीजों को इलाज के साथ हौसला देना जरुरी है कुछ लोग डिप्रेशन में चले जाते हैं, हार्ट फेल तक हो जाता है।

ये भी पढ़ें – गुफा मंदिर के महंत चंद्रमा दास त्यागी का कोरोना से निधन, सीएम ने दी श्रद्धांजलि

एक सवाल के जवाब में डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra)ने कहा कि कोरोना का जो वायरस है उसकी तीव्रता बहुत अधिक है लेकिन अब जिस तरह से सरकार और जनता प्रयास कर रहे है ये नियंत्रण में आ जाएगा। उन्होंने कहा कि अब मध्यप्रदेश में डिस्चार्ज होने वालों की तुलना में भर्ती होने वालों की संख्या कम हो रही है  संकेत है। इसकी चैन तो तोड़नी पड़ेगी क्योंकि यदि एक भी संक्रमित व्यक्ति रह गया तो वो वापस पूरे समाज को संक्रमित कर सकता है।

ये भी पढ़ें – कोरोना की मार के बीच चोरों ने बनाया सूने घर को निशाना, करीब 5 लाख की चोरी

कांग्रेस के कोरोना पर राजनीति करने के सवाल पर डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra) ने कहा कि राजनीति करने के लिए बहुत समय है , मना नहीं किया है, किसी ने रोका नहीं है।  अभी सेवा का  मौका मिला है तो सेवा कर लो, राजनीति तो होती रहेगी।