कोरोना कर्फ्यू का किया उल्लंघन तो रात काटनी पड़ेगी जेल मे

इंदौर डेस्क रिपोर्ट-आकाश धोलपुरे- इंदौर में यदि अब आपने कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन किया तो एक या अधिक रात जेल में बितानी पड़ सकती है। इंदौर में लोगों के द्वारा कोरोना कर्फ्यू का लगातार उल्लंघन किए जाने से परेशान प्रशासन को यह निर्णय लेना पड़ रहा है।

वैक्सीन ही है बचाव ,समझाने में कोरोना वॉरियर्स को हो रही कितनी परेशानी, देखिए वीडियो

इंदौर में 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू लगा है और पूरी तरह से लोगों को घर से निकलने पर पाबंदी है। अति आवश्यक सेवाओं को इससे छूट दी गई है। लेकिन इसके बावजूद कई लोग ऐसे हैं जो बेवजह सड़कों पर घूम रहे हैं और जिनकी वजह से कोरोना संक्रमण फैल रहा है। कलेक्टर ने पहले यह निर्देश दिए थे कि जो भी लोग इस तरह से कोरोना कर्फ्यू तोङते हुए पाए जाएंगे, उन को अस्थाई रूप से जेल भेजा जाएगा। सामान्यता जेल की अवधि 2 या 3 घंटे रहती थी और शाम होते होते उनको छोड़ दिया जाता था। लेकिन अब प्रशासन ने ऐसे लोगों पर कङाई अपनाने का निर्णय लिया है और अब लोगों को रात अस्थाई जेल में गुजारनी होगी। कलेक्टर ने इस बात की जानकारी मीडिया को दी है कि अब लोगों को बिल्कुल सतर्क हो जाना चाहिए कि उन्हें किसी भी स्थिति में कर्फ्यू का उल्लंघन करने में नहीं बख्शा जाएगा|

कोरोना आपदा में विधायक की सराहनीय पहल, की 5 ऑक्सीजन टैंकर की व्यवस्था

पिछले तीन-चार दिनों से एक कर्फ्यू होने के बावजूद इंदौर शहर में लोग बेवजह घूम रहे हैं और ऐसे कई लोगों को पुलिस ने पकड़ के अस्थाई जेल में रखा भी है। प्रशासन के साफ निर्देश है कि किसी भी स्थिति में मॉर्निंग वॉक जैसी गतिविधियां भी नहीं की जाए लेकिन लोग हैं कि साइकिल लेकर लंबे-लंबे निकल लेते हैं। प्रशासन ने पिछले दिनों ऐसे लोगों को भी पकड़कर अस्थाई जेल में रखा है। दरअसल कोरोना कर्फ्यू लगे होने के बावजूद जिस तरह से इंदौर में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा और लगातार नए मामले सामने आते जा रहे हैं, वह प्रशासन के लिए चुनौती बन गए हैं। अस्पतालों में बेड नहीं है और रेमेडीसिविर जैसे अत्यावश्यक इंजेक्शनो की लगातार कमी बनी हुई है। ऐसे में संक्रमण की चेन तोङना ही एकमात्र उपाय बचता है जिसके लिए यह कठोर उपाय अपनाना जरूरी है।