Bribe: CBI की FCI अफसरों पर बड़ी करवाई, 1 लाख की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार

FCI द्वारा गुड़गांव की एक सिक्योरिटी कंपनी से 11 लाख रुपए का बिल पास कराने के लिए 1 लाख की रिश्वत की मांग की गई थी।

bribe

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ जहां देश में कोरोना (corona) से आर्थिक स्थिति चरमरा गई है। वहीं दूसरी तरफ भ्रष्टाचार (Corruption) में भी तेजी से बढोतरी देखने को मिल रही है। ऐसा ही एक ताजा मामला राजधानी भोपाल से सामने आया है। CBI के अधिकारियों द्वारा FCI के चार अफसरों को रिश्वत (bribe) लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया गया।

बता दें कि FCI द्वारा गुड़गांव की एक सिक्योरिटी कंपनी से 11 लाख रुपए का बिल पास कराने के लिए 1 लाख की रिश्वत की मांग की गई थी। सिक्योरिटी कंपनी कैप्टन कपूर एंड संस का ठेका FCI के पास है। जिसका 1 साल का बिल तैयार किया जाता है। FCI के संभागीय मैनेजर, अकाउंट मैनेजर, सिक्योरिटी मैनेजर सहित क्लर्क द्वारा 11 लाख रुपए का बिल पास करने के लिए 10% कमीशन की मांग की जा रही थी।

Read More: MP के इस युवक का फरमान- सीएम शिवराज दे आश्वासन तब लगवाऊंगा वैक्सीन, Video Viral

रिश्वत की मांग के बाद गुड़गांव की सिक्योरिटी कंपनी ने CBI से रिश्वत को लेकर शिकायत की। जिसके बाद शुक्रवार को CBI अधिकारियों द्वारा एक प्लान के तहत FCI के दो अफसर अकाउंट मैनेजर अरुण श्रीवास्तव और सिक्योरिटी मैनेजर मोहन परते को कमीशन देने के लिए माता मंदिर बुलाया गया। वहीं जैसे ही गुड़गांव के सिक्योरिटी कंपनी ने इन दोनों अफसरों के हाथ में पैसे रखे CBI की टीमों ने रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।

अफसरों की जांच पड़ताल से पता चला कि संभागीय मैनेजर हर्ष हिनायना के निर्देश पर अकाउंट मैनेजर और सिक्योरिटी मैनेजर रिश्वत की रकम लेने पहुंचे थे और इनकी इस साजिश में एक क्लर्क भी शामिल है। जिसके बाद इन चारों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं आगे की कार्रवाई की जा रही है।