दतिया, सत्येन्द्र रावत। वैक्सीन की कमी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘सब को मुफ्त Vaccine’ का रास्ता रोक रही है। दतिया (datia) जिले में गांव के लोग वैक्सीन न लगने के कारण परेशान हैं और उन्हें अपने काम करने में दिक्कत आ रही है।

दतिया जिले से 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित जनकपुर गांव के ग्रामीण इन दिनों खासे परेशान है। दरअसल कई सरकारी संस्थानों में तय किया गया है कि बिना Vaccination के किसी व्यक्ति को एंट्री नहीं दी जाए। ऐसे में इस गांव के लोगों को वैक्सीन न लगने का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। वे कृषि संबंधी कार्यों के लोन इत्यादि के संबंध में जब बैन्क जाते हैं तो प्रवेश के लिए वैक्सीनेशन अनिवार्य होने के कारण उन्हें अंदर नहीं आने दिया जाता।

Read Moreघर के बाहर खड़ी मासूम को तेज रफ्तार कार ने कुचला, मौत, लोगों ने कार में की तोड़फोड़

ग्रामीणों का कहना है कि इसके चलते वे किसान क्रेडिट कार्ड जैसी सरकारी योजना का लाभ नहीं उठा पा रहे। वैक्सीनेशन क्यों नहीं हो पा रहा, इसका कारण ग्रामीणों ने बताया कि वह गोविंदगढ़ या दतिया जाते हैं तो वहां वैक्सीन नहीं होने की बात कर दी जाती है। पंचायत के सचिव और सरपंच ने साफ कहा है कि अभी वैक्सीन उपलब्ध नहीं है और जब आएंगे तब लगा दी जाएंगी।

ग्रामीण इलाकों में वैक्सीनेशन के लिए अभी तक कोई दल नहीं पहुंचा, यह भी ग्रामीणों का कहना है। ग्रामीणों का कहना है कि वह पंचायत सचिव से लेकर आला अधिकारियों से बात कर चुके हैं लेकिन सभी ने अभी साफ तौर पर कहा है कि प्रथम डोज की वैक्सीन अभी उपलब्ध नहीं है, जब आएगी तब लगा दी जाएगी। ग्रामीणों ने यह भी अनुरोध किया है कि जब तक वैक्सीनेशन नहीं हो जाता तब तक सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए लगी हुई पाबंदियां हटाई जानी चाहिए क्योंकि वह तो वैक्सीन लगवाना चाहते हैं लेकिन वैक्सीन उपलब्ध नहीं।