भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में आगामी चुनाव (upcoming elections) के लिए तैयारियां शुरू कर दी गई है। पार्टी अपने अपने स्तर पर बैठकर आयोजित कर रही है। इसी बीच मध्यप्रदेश में दोनों पार्टियों की तरफ से आरोप-प्रत्यारोप सहित दावों का दौर शुरू हो गया है। मध्यप्रदेश में 2023 के चुनाव को लेकर भी चर्चा तेज हो गई है। इसी बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी (jitu patwari) का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने दावा किया है कि 2023 में मध्यप्रदेश में एक बार फिर से कांग्रेस की सरकार बनेगी और इसके साथ ही साथ Kamalnath फिर से मुख्यमंत्री होंगे।

Read More: VIDEO: Alok Nath Birthday- संस्कारी बाबूजी को यूजर्स क्यों कह रहे Iron Man और Thug Life!

दरअसल Patwari ने दावा किया है कि चुनाव लड़कर कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस से 170 सीटें अपने खाते में करेगी। साथ ही साथ पटवारी ने इस बात पर मुहर लगाई है कि कमलनाथ ही 2023 चुनाव में कांग्रेस का प्रतिनिधित्व करेंगे। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष और विधायक जीतू पटवारी ने दावा किया है कि Digvijay Singh के साथ एक-एक कार्यकर्ता कमलनाथ के नेतृत्व में 2023 में चुनाव लड़ेगा। जीतू पटवारी का दावा है कि दिग्विजय सिंह विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। ऐसी स्थिति में दिग्विजय सिंह विधानसभा के चुनाव लड़ते हैं तो राघौगढ़ के किले से तीन तीन विधायक सामने होंगे। सबसे बड़ा सवाल है, ऐसी स्थिति में आखिर किस मंत्री पद के लिए चुना जाएगा।

Read More: India vs Srilanka Series: भारत-श्रीलंका मैच पर कोरोना की नजर, स्थगित, जाने नया Schedule

वहीं सरकार को घेरते हुए पूर्व मंत्री पटवारी ने कहा कि आयोजित पूर्व मुख्यमंत्री Kamalnath ने राज्यपाल से मुलाकात की है। जहां प्रदेश के मौजूदा हालात के बारे में विस्तृत चर्चा की गई है। वहीं कांग्रेस द्वारा Corona से मरने वाले लोगों के पीड़ितों को मुआवजे की मांग की जा रही है लेकिन सरकार का इस संबंध में कोई स्पष्ट दिशा-निर्देश नहीं है। नेमावर की घटना पर शिवराज सरकार को घेरते हुए पूर्व मंत्री पटवारी ने कहा कि जिलों के अत्याचार करने वाले लोगों को सरकार का संरक्षण है। बेरोजगारी की वजह से आज नई उम्र के लोग भी क्राइम की तरफ रुख कर रहे हैं।