IMD Alert : 3 दिन पहले केरल पहुंचा मानसून, 17 राज्य में बारिश का अलर्ट, इन राज्यों में बढ़ेंगे तापमान

असम-मेघालय के साथ-साथ नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा 29 मई, 31 और 1 जून को भारी बारिश की संभावना है।

नई दिली, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में मौसम सुहावना बना हुआ है। कई राज्य में आसमान में बादल छाए हुए हैं। गरज चमक के साथ कई राज्यों में बारिश का अलर्ट भी जारी है। इसी बीच IMD Alert ने राजधानी दिल्ली सहित UP के मौसम में बदलाव की संभावना जताई है। दरअसल दिल्ली में जहां आज मौसम साफ रहेगा। आसमान में कड़ी धूप खिली रहेगी। अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना जताई गई है।

वहीं आगामी 5 दिनों तक दिल्ली के तापमान में लगातार वृद्धि देखी जाएगी। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में न्यूनतम तापमान 28 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना जताई गई है। आसमान में बादल छाए रहेंगे। हालांकि गर्म हवाएं चल सकती है। वहीं उत्तर प्रदेश में भी आने वाले दिनों में तापमान बढ़कर 42 से 43 डिग्री तक पहुंच सकते हैं।

इधर मध्य प्रदेश राजस्थान गुजरात में भी मौसम में बदलाव की स्थिति देखने को मिलेगी। मध्यप्रदेश में आसमान में बादल छाए रहेंगे। न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जा सकता है। वहीं अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस का हो गया आसमान में बादल छाए रहेंगे। आने वाले दिनों में तापमान में एक से दो फीसद की बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। वहीं गुजरात में भी तापमान में वृद्धि देखी जा रही है। दरअसल अधिकतम तापमान बढ़कर 42 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। वहीं न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस तक है आसमान में हल्के बादल छाए रहेंगे। कड़ी धूप खिली रहेगी।

शनिवार को, भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने घोषणा की कि अगले 2-3 दिनों में केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरुआत के लिए स्थितियों में सुधार हो रहा है। मौसम सेवा के अनुसार, अगले पांच दिनों के दौरान पूरे देश में लू चलने की संभावना है। आईएमडी के अनुसार, अगले 23 दिनों में केरल में मानसून शुरू होने की स्थिति में सुधार हो रहा है।

वर्षा की भविष्यवाणी:

इसी समय सीमा के दौरान, दक्षिण-पश्चिम मानसून के अरब सागर और लक्षद्वीप क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां भी अनुकूल हैं। अगले 5 दिनों के दौरान, केरल, माहे और लक्षद्वीप में गरज के साथ मध्यम बारिश और बिजली गिरने की संभावना है। अगले कुछ दिनों में आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में बारिश होगी।

केरल और माहे में 28 मई से 1 जून के साथ-साथ 30 मई को लक्षद्वीप में भी भारी बारिश की संभावना है। उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और ।में 28, 30 और 31 मई को, 1 जून को अरुणाचल प्रदेश में और 28 मई और 1 जून को असम-मेघालय के साथ-साथ नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा 29 मई, 31 और 1 जून को भारी बारिश की संभावना है।

Read More : मध्यप्रदेश : नेता प्रतिपक्ष ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र, मेरे साथ हो सकती थी अनहोनी

अगले 5 दिनों में हिमाचल प्रदेश में मध्यम बारिश की संभावना है। अगले 2-3 दिनों के दौरान, उत्तराखंड, उत्तरी पंजाब, उत्तरी हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान में मध्यम बारिश होगी। 28 मई को जम्मू-कश्मीर के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में 29 तारीख को ओलावृष्टि की संभावना है। जम्मू और कश्मीर में, मध्यम वर्षा के साथ-साथ गरज के साथ छींटे पड़ने, बिजली गिरने और तेज आंधी चलने की संभावना है।

झारखंड में आज बारिश की संभावना है। दरअसल न्यूनतम तापमान 24 डिग्री व अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई गई। आसमान में बादल छाए रहेंगे। हालांकि चार-पांच दिनों में तापमान में 6 फीसद की बढ़ोतरी देखी जाएगी। वहीं अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना जताई गई है। पूर्वी राज्य में भी बारिश का दौर जारी रहेगा। असम मेघालय मणिपुर नागालैंड में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है। बाढ़ की स्थिति से कई परेशानियां निर्मित हुई है। वहीं अब भी 3 जून तक इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मानसून की स्थिति की बात करें तो इस बार मानसून केरल में 3 दिन की देरी से पहुंचेगा। दरअसल 2 जून तक केरल में मानसून की दस्तक की संभावना जताई गई है। हालांकि मानसून के पहले प्री मानसून और Western disturbance के कारण कई राज्यों में मौसम बदला है। आसमान में बादल छाए हुए हैं। जिससे आमजन को थोड़ी राहत मिल रही है।

हवा की भविष्यवाणी:

अगले 5 दिनों के दौरान, दक्षिण-पश्चिम अरब सागर के ऊपर तूफानी मौसम (40-50 किमी/घंटा की रफ्तार से 60 किमी/घंटा की रफ्तार से चलने वाली हवाएं) होने की संभावना है। 29 और 30 मई को, केरल तट के साथ दक्षिण पूर्व अरब सागर और लक्षद्वीप क्षेत्र में भी इसी तरह की स्थिति बनी रहेगी। 28 और 29 मई को यह पूर्वोत्तर अरब सागर और पास के उत्तरी गुजरात तट पर भी मौजूद रहेगा।

28 मई को पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग इलाकों में धूल भरी आंधी चलने की संभावना है। शनिवार को राजस्थान में भी 20-30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है। अगले 5 दिनों में पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में गरज, बिजली और तेज़ हवाओं के साथ छिटपुट वर्षा की उम्मीद है, साथ ही बिहार झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में गरज, बिजली और तेज़ हवाओं के साथ छिटपुट वर्षा होने की संभावना है।

आईएमडी, भुवनेश्वर के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, सुंदरगढ़, क्योंझर, मयूरभंज और देवगढ़ जिलों में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने ओडिशा के 13 जिलों के लिए ताजा आंधी-तूफान का अलर्ट जारी किया है। साथ ही उनके लिए येलो अलर्ट भी जारी की है। इसके अलावा अंगुल, ढेंकनाल, जाजपुर, बालासोर, भद्रक, कटक, केंद्रपाड़ा, कालाहांडी, बोलांगीर जिलों के लिए भी कल (29 मई) सुबह 8.30 बजे तक येलो वार्निंग जारी की गई है।

अगले 2-3 दिनों के दौरान केरल में मॉनसून की शुरुआत के लिए समुद्र की स्थिति धीरे-धीरे अनुकूल होती जा रही है। इसी अवधि के दौरान अरब सागर और लक्षद्वीप क्षेत्र के कुछ और हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए भी परिस्थितियाँ अनुकूल हैं। इधर हरियाणा में न्यूनतम तापमान 29 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना जताई गई है आसमान में 23 कड़ी धूप खिली रहेगी। हालांकि हीटवेव का अलर्ट जारी नहीं किया गया है। बावजूद इसके गर्म हवाओं से जनजीवन त्रस्त रहेगा जबकि पंजाब में भी न्यूनतम तापमान 28 डिग्री व अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई गई है।

जम्मू कश्मीर में तापमान में 2 फीसद की बढ़ोतरी देखने को मिली है न्यूनतम तापमान 27 डिग्री व अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है। लेह लद्दाख में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री व अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस तक रहेंगे आसमान मैं बादल छाए रहेंगे। काले बादल के कारण मौसम में राहत देखने को मिलेगी। वहीं लद्दाख की बात करें तो आसमान में बादल छाने के अलावा बूंदाबांदी देखने को मिल सकती है।

पर्वतीय राज्यों की बात करें तो उत्तराखंड में तापमान 13 डिग्री व अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई गई। आसमान में बादल छाए रहेंगे। हल्की बारिश देखने को मिलेगी। शिमला में भी न्यूनतम तापमान 11 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना जताई गई है। वहीं आसमान में बादल छाए रहेंगे। मौसम सुहावना बना रहेगा। इधर केरल कर्नाटक में बारिश का दौर जारी रहेगा।

तमिलनाडु महाराष्ट्र सहित गोवा के कुछ हिस्सों में बारिश और गरज चमक देखने को मिलेगी। आसमान में बादल छाए रहेंगे। बिहार में भी न्यूनतम तापमान 28 व अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस तक रहने की उम्मीद जताई गई। हालांकि एक बार फिर से बिहार में तापमान में 2 फीसद की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। वहीं अधिकतम तापमान बढ़कर 41 डिग्री सेल्सियस तक जाने की उम्मीद जताई गई है।