मिशन 2024: दिल्ली में खेला होबे! आज सोनिया-पवार और केजरीवाल संग Mamata की मुलाकात

यह स्पष्ट करते हुए कि वह भाजपा के खिलाफ राजनीतिक मोर्चा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पांच दिवसीय दौरे पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (mamata banerjee)  दिल्ली में हैं। आज राजधानी में ममता (mamata)  के कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी (sonia gandhi) से मिलने की उम्मीद है। बैठक शाम 4:30 बजे गांधी के आवास 10 जनपथ पर होने की उम्मीद है। इस साल मई में बंगाल विधानसभा चुनाव में बनर्जी की जीत के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात होगी। इससे पहले ममता बनर्जी ने मंगलवार को पीएम मोदी (pm modi) के अलावा कमलनाथ (kamalnath) से मुलाकात की थी।

कांग्रेस आलाकमान से मिलने के अलावा ममता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (arvind kejriwal), राकांपा सुप्रीमो शरद पवार (sharad pawar) और शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत (sanjay raut) से भी मुलाकात करेंगी। वहीँ इससे पहले कमलनाथ से ममता की मुलाकात के बहुत गहरे मायने निकले जा रहे हैं। विपक्ष को सुसंगठित करने की जिम्मेदारी ममता के सिर देखी जा रही है। 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी राष्ट्रीय स्तर पर अहम भूमिका निभाने की तैयारी में हैं।

Read More: MP News: जनता के हित में शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, ऐसे मिलेगा लाभ

ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद कमलनाथ ने कहा था 2024 की रणनीति पर सोनिया गांधी से चर्चा की जाएगी।ममता कल सुबह सोनिया गांधी से मिलेंगी। कमलनाथ ने कहा कि ममता बनर्जी से उनके पुराने संबंध हैं और उन्हें बधाई देने आए हैं। उन्होंने कहा था कि देश में महंगाई, कानून-व्यवस्था और दमन-खरीद की राजनीति जैसे मुद्दों पर ममता बनर्जी के साथ चर्चा हुई।

मंगलवार को TMC प्रमुख ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की और राज्य में और अधिक टीकों और दवाओं की आवश्यकता पर चर्चा की थी। प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि यह प्रधानमंत्री के साथ शिष्टाचार मुलाकात थी। बनर्जी ने यह भी कहा कि पीएम को पेगासस (pegasus) मुद्दे पर एक सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए और कहा कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जांच होनी चाहिए। ममता बनर्जी ने कहा कि विपक्षी एकता अपने आप आकार ले लेगी। यह स्पष्ट करते हुए कि वह भाजपा के खिलाफ राजनीतिक मोर्चा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।