MP Board: तैयार हो रहे 12वीं के परीक्षा परिणाम, स्कूल और छात्र 5 जुलाई तक पूरा करें ये काम

Private विद्यार्थी अंकसूची, मंडल की वेबसाइट (website) पर अपलोड करेंगे।

MP board

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में MP Board 12वीं के विद्यार्थियों को परीक्षा परिणाम तैयार होना शुरू हो गया है। मंत्री समूह की बैठक में आखिरकार 12वीं परीक्षा को लेकर फार्मूला (12th result formulae)  तय कर लिया गया है। वहीं अब माध्यमिक शिक्षा मंडल (Board of Secondary Education) ने विद्यार्थियों सहित MP Schools को निर्देश दिए हैं।

दरअसल 12वीं का परीक्षा परिणाम 10वीं के सर्वश्रेष्ठ पांच विषयों के विषयवार अंकों के आधार पर तैयार किया जाएगा। जिसके लिए मंडल ने व्यवस्था शुरू कर दी है। वहीं परीक्षा परिणाम तैयार करने के लिए 10वीं के साथ अन्य बोर्ड से 10वीं परीक्षा पास किए परीक्षार्थियों को अपना ऑनलाइन मार्कशीट (online marksheet) अपलोड करना होगा। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल (Board of Secondary Education) ने 5 जुलाई तक का समय दिया है।

माध्यमिक शिक्षा मंडल का कहना है कि 12वीं के परीक्षा परिणाम करने के लिए 10वीं की रिजल्ट (result) की आवश्यकता है। जबकि मंडल के पास MP Board के छात्रों को छोड़कर अन्य किसी बोर्ड के छात्रों के 10वीं परीक्षा पास के डाटा नहीं है। वही माध्यमिक शिक्षा मंडल स्कूलों को सख्त निर्देश दिए हैं कि 5 जुलाई तक सभी स्कूलों को छात्रों की अंकसूची ऑनलाइन अपलोड (online upload) करनी होगी।

Read More: MP News: किसानों के लिए शिवराज सरकार की केंद्र सरकार से बड़ी मांग, मिलेगा बड़ा फायदा

मामले में माध्यमिक शिक्षा मंडल का कहना है कि नियमित छात्रों की 10वीं की अंकसूची स्कूल प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन अपलोड करनी होगी जबकि Private विद्यार्थी अंकसूची, मंडल की वेबसाइट (website) पर अपलोड करेंगे। इसके अलावा जो भी विद्यार्थी परीक्षा परिणाम से असंतुष्ट होंगे। उन्हें 12वीं के परीक्षा की सुविधा भी दी गई है। मध्यमिक शिक्षा मंडल का कहना है कि अगर कोई छात्र अपने MP Board 12वीं परीक्षा परिणाम में प्राप्त अंक से असंतुष्ट है तो परीक्षा परिणाम घोषित होने के 7 दिन के अंदर उसे परीक्षा में शामिल होने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य किया जाएगा।

बता दें कि मध्यप्रदेश में 12वीं परीक्षा परिणाम के लिए फार्मूला तैयार कर लिए गए हैं। वही 10वीं में Science विषय के आधार पर 12वीं में सर्वाधिक विषय में अंक दिए जाएंगे। 10वीं में विज्ञान के नंबर के आधार पर 12वीं में फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायो सहित साइंस से जुड़े विषयों के आधार पर अंक मिलेंगे। वही गणित के आधार पर 12वीं में गणित और बुक कीपिंग अकाउंटेंसी (book keeping accountancy)के अंक निर्धारित किए जाएंगे। साथ ही हिस्ट्री, राजनीति शास्त्र और जियोग्राफी के लिए सोशल साइंस के अंको की मैपिंग की जाएगी।