MP College Admission : छात्रों के पास अंतिम मौका, 31 जुलाई तक पूरा करें कार्य, 1 से 5 अगस्त के बीच मिलेगा प्रवेश

दरअसल 1 अगस्त को सभी कॉलेज की मेरिट सूची तैयार की जाएगी। महाविद्यालय की लॉगिन आईडी पर सभी मेरिट सूची अपलोड की जाएगी।

mp college

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपी कॉलेज में यूजी और पीजी कक्षा में प्रवेश (MP College Admission) के लिए चौथे चरण के काउंसलिंग (CLC) की प्रक्रिया जारी है। दरअसल प्रदेश के 1321 निजी और शासकीय कॉलेजों में यूजी और पीजी कोर्स (UG-PG Courses) के लिए प्रवेश प्रक्रिया आयोजित की गई है। हालांकि इसके लिए अंतिम तिथि शनिवार थी। जिसे 1 दिन के लिए और बढ़ा दिया गया है। अब छात्र 31 जुलाई तक ऑनलाइन सत्यापन (online verification) और त्रुटि सुधार के लिए पात्र होंगे।

बता दे कि अभी तक नहीं अभी तक के पंजीयन होने के बाद सत्यापन कराने की अंतिम तारीख शनिवार थी। जिसे 31 जुलाई तक के लिए बढ़ाया गया है। यूजी और पीजी दोनों कोर्स के पंजीकृत आवेदक ऑनलाइन सत्यापन और त्रुटि सुधार कर सकेंगे। साथ ही चौथे चरण की कॉलेज लेवल काउंसलिंग के लिए छात्र एक से अधिक महाविद्यालय में आवेदन जमा कर सकेंगे।

Read More : राज्य शासन की बड़ी तैयारी, केंद्र को भेजा जाएगा प्रस्ताव, छात्रों को मिलेगा लाभ, RTE के दायरे में आएंगे यह स्कूल

दरअसल 1 अगस्त को सभी कॉलेज की मेरिट सूची तैयार की जाएगी। महाविद्यालय की लॉगिन आईडी पर सभी मेरिट सूची अपलोड की जाएगी। इतना ही नहीं कॉलेज अपने नोटिस बोर्ड पर भी मेरिट सूची को चस्पा करेंगे। इसके साथ ही 1 अगस्त से ऑनलाइन शुल्क जमा करने के लिए लिंक को एक्टिवेट कर दिया जाएगा। यूजी और पीजी कक्षा में प्रवेश लेने के लिए छात्र 1 अगस्त से लेकर 5 अगस्त तक आवेदन शुल्क जमा कर कॉलेज में अपने प्रवेश की प्रक्रिया को पूरा करेंगे।

बता दें कि इस साल यूजी और पीजी कक्षा में प्रवेश के लिए करीब 5 लाख तय किए गए हैं। 386415 सीटों पर छात्रों ने प्रवेश ले लिया है। वहीं चौथे चरण की सीएलसी प्रक्रिया जारी है। उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों की माने तो यूजी में इस साल 2 लाख 86486 छात्रों ने प्रवेश लिया है जबकि पीजी में प्रवेश लेने वाले छात्रों की संख्या 99929 है।

चौथे चरण की कॉलेज लेवल काउंसलिंग के लिए यूजी में अब तक 47000 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है जबकि 38300 से अधिक छात्रों द्वारा दस्तावेज सत्यापन का कार्य पूरा कर लिया गया है। वहीं पीजी में 19841 छात्रों द्वारा पंजीयन कराया गया है। जिसके लिए सत्यापन 15220 छात्रों द्वारा किया गया है।