MP College : छात्रों के लिए महत्वपूर्ण खबर, UG का नया सिलेबस जारी, कई नवीन विषयों को किया गया शामिल

MP MP College : साथ ही NEP 2020 में पहले वर्ष के लिए 25 वोकेशनल कोर्स को शामिल किया गया था लेकिन इस बार वैकल्पिक कोर्सों के साथ कई विषयों को जोड़ा गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में उच्च शिक्षा विभाग (Higher education department) द्वारा MP College UG कोर्स (UG Courses) में एडमिशन की प्रक्रिया (Admission process) शुरू हो गई है। दरअसल में नामांकन की प्रक्रिया के साथ ही कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया के नियम तय कर दिए गए हैं। वही प्रवेश प्रक्रिया के लिए जरूरी निर्देश भी दिए जा चुके है। इसी बीच उच्च शिक्षा विभाग ने यूजी कोर्स के सेकंड ईयर के नए सिलेबस (New syllabus) जारी किए हैं। छात्रों को वैकल्पिक तौर पर संगीत एवं वाद्य का योगदान भरतनाट्यम, फैशन, डिजाइनिंग कोर्स, वैदिक कर्मकांड भी पढ़ाया जाएगा।

इसके अलावा सभी कोर्स के छात्र वैकल्पिक सामान्य विषय के तौर पर इसका चयन कर सकेंगे। इलेक्टीव जेनरिक के तौर पर छात्र भारतीय संगीत विषय में फिल्म संगीत और वाद्य का योगदान सहित भरतनाट्यम आदि को चुन सकेंगे। इतना ही नहीं इंडस्ट्रियल माइक्रोबायोलॉजी खाद्य सूक्ष्म विज्ञान में विज्ञान जैसे विषय को भी शामिल किया गया है।

इसके अलावा यूजी के छात्रों को फिल्मी गाने और संगीत रचनाएं भी सिखाई जाएगी। वही संगीत में शास्त्रीय संगीत के पक्ष, संगीत शब्दावली और ताल और तंत्र वाद्यों का उपयोग भी सिखाया जाएगा। बता दें कि इसके लिए परीक्षा 30 अंक के निर्धारित की गई है। साथ ही NEP 2020 में पहले वर्ष के लिए 25 वोकेशनल कोर्स को शामिल किया गया था लेकिन इस बार वैकल्पिक कोर्सों के साथ कई विषयों को जोड़ा गया है।

Read More : MP Rajya sabha Election : 1 सीट पर कांग्रेस ने तय किए उम्मीदवार के नाम, कमलनाथ ने की घोषणा, BJP के 2 सीटों पर संशय बरकरार

साथ ही 2023 में फाइनल का सिलेबस तैयार किया जाएगा। 2024 में इसे एमकॉम, M.Sc, MA पीजी कोर्स में भी लागू करने की तैयारी की जा रही है। बता दें कि बीकॉम बीबीए सहित बीसीए और होटल मैनेजमेंट और पत्रकारिता और जनसंचार के लिए भी जारी कर दिया गया है। साथ ही इलेक्टीव, फाउंडेशन, मेजर सहित जेनेरिक माइनर के बीच सिलेबस जारी किए गए। सभी कोर्स में नए विषय को जोड़ा गया है। फर्स्ट ईयर की परीक्षा के बाद से ही छात्र सेकंड ईयर की परीक्षा में बैठ सकेंगे।

वही नवीन शिक्षा नीति (NEP 2020) के तहत 1 साल में छात्र सर्टिफिकेट के लिए अप्लाई कर सकेंगे। वहीं परीक्षाएं जून में आयोजित की जाएगी। परीक्षा अगस्त तक संचालित की जाएगी। वहीं फर्स्ट ईयर का रिजल्ट आने के बाद से व्यवस्था लागू की जाएगी। दूसरे वर्ष में डिप्लोमा, तीसरे वर्ष में डिग्री छात्रों को मिलेगी। तीसरे साल में जिस छात्र का CGPA 7.5 फीसद से अधिक रहेगा। उसे चौथा वर्ष में प्रवेश दिया जाएगा। 4 साल पढ़ाई पूरी करने वाले छात्र को ऑनर्स डिग्री की मान्यता दी जाएगी।