MP News : शोभा सिकरवार होंगी ग्वालियर से महापौर पद की कांग्रेस प्रत्याशी

बताया जा रहा है कि इस समय बीजेपी में ग्वालियर में काफी गुटबाजी है लेकिन माया सिंह का नाम एक ऐसा नाम होगा जो सर्वमान्य होगा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। लंबी जद्दोजहद के बाद आखिरकार कांग्रेस (Congress) ने ग्वालियर में शोभा सिकरवार (Shobha Sikarwar) को मेयर पद (Mayor) पर चुनाव (Election) लड़ाने का निर्णय लिया है। वे विधायक सतीश सिकरवार (Satish Sikarwar) की पत्नी है और पार्षद रह चुकी हैं। इस सीट पर उम्मीदवार चयन को लेकर कांग्रेस में काफी मतभेद थे।

कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार की पत्नी शोभा सिकरवार ग्वालियर में मेयर पद के लिए कांग्रेस की प्रत्याशी होगी। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने उनके नाम पर मुहर लगा दी है। गुरुवार को इस मसले पर कमलनाथ के बंगले पर लंबी बैठक हुई और उसमें कांग्रेस के जिला अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा की पत्नी रोमा शर्मा का नाम भी काफी तेजी से चला। कांग्रेस के अधिकांश स्थानीय लोग रोमा को टिकट दिए जाने के पक्ष में थे और उनका कहना था कि सतीश सिकरवार बीजेपी से कांग्रेस में आए हैं और ऐसे में शोभा को टिकट देना ठीक नहीं क्योंकि वर्षों से जो कांग्रेसी हैं उनका पहले हक है।

Read More : विराट कोहली को पीछे छोड़, बाबर आजम ने बनाया नया रिकार्ड

लेकिन कमलनाथ ने समझाया कि हर सीट पर जीतना कांग्रेस की पहली प्राथमिकता है और उनके सर्वे के अनुसार शोभा सिकरवार एक सशक्त उम्मीदवार हैं। इसके बाद शोभा सिकरवार के नाम पर आम सहमति बनी और देर शाम तक उनके नाम की औपचारिक घोषणा कर दी जाएगी। उधर बीजेपी के सूत्रों की मानें तो पूर्व मंत्री माया सिंह का नाम सबसे तेजी के साथ मेयर पद के लिए चल रहा है। माया सिंह के पास दीर्घकालीन राजनीतिक अनुभव है और वह राजमाता विजय राजे सिंधिया की सलाहकार के रूप में देश प्रदेश की राजनीति में काम कर चुकी है।

बताया जा रहा है कि इस समय बीजेपी में ग्वालियर में काफी गुटबाजी है लेकिन माया सिंह का नाम एक ऐसा नाम होगा जो सर्वमान्य होगा और जिन्हें सिंधिया राजघराने से जुड़े होने का भी काफी लाभ मिलेगा। ऐसे मे माया सिंह को मेयर पद का भाजपा प्रत्याशी बनाने की पूरी संभावनाएं हैं। हालांकि शुरुआत में माया सिंह ने इस चुनाव से लड़ने से मना किया था लेकिन उनको यह कहकर मना लिया गया कि पार्टी की प्राथमिकता है कि पार्टी हर हाल में ग्वालियर की सीट भाजपा के पास कायम रखें।