MP Weather: मप्र के 7 संभागों में भारी बारिश की चेतावनी, 3 दिन बाद फिर बदलेगा मौसम

अगले 24 के दौरान MP के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश की संभावना बनी हुई है। 

mp weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मौसम (MP Weather) में लगातार के उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी हुई है। बंगाल की खाड़ी (bay of bengal) से लगातार मिल रही नमी के कारण प्रदेश के कुछ हिस्सों में तेज धूप खिली है तो कहीं बूंदाबांदी भी जारी है। वही कम दबाव का क्षेत्र निर्मित होने की वजह से प्रदेश में एक बार फिर से मानसून (monsoon) के कमजोर पड़ने की गति देखी जा रही है। मौसम विभाग की माने तो छत्तीसगढ़ और उसके आसपास के इलाके में फिलहाल मानसून का सिस्टम सक्रिय है। इसके अलावा राजस्थान के एक चक्रवात निर्मित होने की वजह से मध्यप्रदेश में आंशिक बादल छाए रहेंगे। वही मध्य प्रदेश के कुछ जिलों में बूंदाबांदी हो सकती है।

हालांकि, पिछले कुछ दिनों से राज्य में मानसून की गतिविधियां बदल रही हैं और स्थिर हो गई हैं। उधर, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में इंदौर, उज्जैन समेत 5 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. इसके अलावा, मौसम विभाग ने इंदौर, उज्जैन, रीवा, बैतूल, अनूपपुर संभाग में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने और अच्छी बारिश की भविष्यवाणी की है। मौसम विज्ञानी ने कहा ओडिशा, आंध्र प्रदेश में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण कुछ जगहों पर इसी तरह की भारी और हल्की बारिश होगी। अगले 24 के दौरान राज्य के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश की संभावना बनी हुई है।

Read More: VIDEO: ग्वालियर को जल्द मिलेगी बड़ी सौगात, Scindia ने की घोषणा

इसके अलावा दो मानसूनी सिस्टम सक्रिय होने की वजह से भोपाल सहित मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों पर इसका असर पड़ सकता है। हालांकि बंगाल की खाड़ी की तरफ से एक सिस्टम झारखंड की तरफ भी निर्मित हो रहा है। जिसके छत्तीसगढ़ पहुंचने की संभावना है। यदि ऐसा होता है तो मध्य प्रदेश के मौसम में एक बार फिर से भारी बारिश देखने को मिलेगी और 25 सितंबर के बाद एक बार फिर से प्रदेश में भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

मौसम विभाग की मानें तो प्रदेश में अब तक 36 से 38 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई है। वही बारिश का यह रिकॉर्ड सामान्य से दो से 3% कम है। मध्य प्रदेश के पूर्वी हिस्से में कटनी, मंडला, नरसिंहपुर, पन्ना, सागर और सतना समेत लगभग 15 से अधिक जिलों में 60% से कम बारिश रिकॉर्ड की गई है। हालांकि आगर मालवा, भिंड, राजगढ़, नीमच, गुना और शिवपुरी में सामान्य से अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई है।

पिछले 24 घंटे में प्रदेश के चंबल संभाग के जिलों के अलावा उज्जैन, ग्वालियर, शहडोल और इंदौर संभाग के कुछ स्थानों पर बारिश देखी गई है। इसके अलावा जबलपुर, होशंगाबाद, सागर, भोपाल और रीवा में भी कहीं-कहीं बूंदाबांदी देखने को मिली है।

MP Weather: मप्र के 7 संभागों में भारी बारिश की चेतावनी, 3 दिन बाद फिर बदलेगा मौसम