MP Weather: नवंबर में बदलेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव, गिरेगा तापमान, बढ़ेगी ठंड, जानें विभाग का पूर्वानुमान

नवंबर माह के पहले पखवाड़े में जब पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होंगे और हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी होगी। उसके बाद ही ठंड का असर बढ़ेगा।

mp weather news

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मौसम में एक बार फिर नवंबर में बदलाव देखने को मिलेगा। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से नवंबर के पहले सप्ताह में पूरे प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। चुंकी प्रदेश में इस बार अच्छी बारिश हुई है, ऐसे में अक्टूबर महीने से ठंड का असर दिखाई देने लगा है। वही नवंबर में भी ठंड का तेज असर देखने को मिलेगा।नवंबर माह के पहले पखवाड़े में जब पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होंगे और हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी होगी। उसके बाद ही ठंड का असर बढ़ेगा।

यह भी पढ़े..CG Weather: मौसम में बदलाव जारी, तापमान में गिरावट, इस बार जमकर पड़ेगी ठंड, जानें विभाग का पूर्वानुमान

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update) के अनुसार, एक तरफ प्रदेशभर में उत्तर पश्चिमी हवाएं चल रही है, वही दूसरी तरफ अभी जो पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर पर बना हुआ है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में बना सितरंग तूफान कमजोर होकर पूर्वी बांग्लादेश में चला गया है, जिसके कारण आने वाले दिनों में मौसम शुष्क रहेगा और धीरे-धीरे में दिन में रात के तापमान में गिरावट होगी। नवंबर माह के पहले पखवाड़े में जब पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होंगे और हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी होगी। उसके बाद ही ठंड का असर बढ़ेगा।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast) के अनुसार, पिछले 24 घंटों में सभी संभागों में मौसम शुष्क रहा। सर्वाधिक तापमान दमोह और राजगढ़ में 35 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।सबसे न्यूनतम तापमान मंडला में 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। 14 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चल सकती है।  बुधवार को मध्य प्रदेश में सबसे कम 12 डिग्री सेल्सियस तापमान छिंदवाड़ा, मंडला एवं मलाजखंड में दर्ज किया गया। राजधानी में न्यूनतम तापमान 15.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। गुरुवार को भी न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।

यह भी पढ़े..शिवराज सरकार की बड़ी तैयारी, सभी पंचायतों को मिलेगा लाभ, छात्रों का भी होगा सम्मान

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Today) के अनुसार,  वर्तमान में मध्य प्रदेश के मौसम को प्रभावित करने वाली किसी मौसम प्रणाली के सक्रिय नहीं रहने से मौसम शुष्क बना हुआ है। हालांकि वर्तमान में भोपाल एवं इंदौर के मध्य में एक प्रति चक्रवात बना हुआ है। इसके असर से हवा में ऊपरी स्तर पर नमी आने लगी है। इसके चलते तापमान में मामूली बढ़ोतरी हो रही है।

MP Weather: नवंबर में बदलेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव, गिरेगा तापमान, बढ़ेगी ठंड, जानें विभाग का पूर्वानुमान