SAHARA से भुगतान के लिए अब प्रधानमंत्री से जन की बात करेंगे यह कांग्रेस नेता

SAHARA : इसे लेकर मध्यप्रदेश में अब तक सहारा प्रमुख सुब्रतो राय सहित उनके अधीनस्थों के खिलाफ एक सैकड़ा से ज्यादा FIR  दर्ज हो चुकी है।

SAHARA

जबलपुर, संदीप कुमार। सहारा इंडिया कंपनी (Sahara India) की सोसाइटीयो (societies) द्वारा निवेशकों (investors) का अरबों रुपए भुगतान न करे जाने का मामला अब तूल पकड़ गया है। जबलपुर के युवा कांग्रेस नेता सौरभ शर्मा (saurabh sharma) नाटी ने सहारा से निवेशकों का भुगतान कराने के लिए अब पोस्टकार्ड अभियान चलाने की मुहिम छेड़ दी है।

निवेशकों के साथ धोखाधड़ी के एक फैसला से ज्यादा मामलों में मध्यप्रदेश में ही FIR का सामना कर रहे सहारा प्रमुख सुब्रत राय की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है। अकेले जबलपुर जिले की बात करें तो यहां पर लगभग 750 करोड़ रुपए निवेशकों का बकाया है जो सहारा वापस नहीं कर रहा। दरअसल एजेंटों के माध्यम से सहारा ने निवेशकों की खून पसीने की कमाई अपनी विभिन्न कोऑपरेटिव सोसाइटीयो में धन को दुगना तिगुना करने का लालच देकर निवेश कराई थी लेकिन परिपक्वता अवधि पूरी होने के बाद भी राशि वापस नहीं की जा रही।

SAHARA से भुगतान के लिए अब प्रधानमंत्री से जन की बात करेंगे यह कांग्रेस नेता

 

Read More : Recruitment 2021: युवाओं के लिए बड़ी खबर, इन पदों पर निकली भर्ती, जल्द करें आवेदन

इसे लेकर मध्यप्रदेश में अब तक सहारा प्रमुख सुब्रतो राय सहित उनके अधीनस्थों के खिलाफ एक सैकड़ा से ज्यादा FIR  दर्ज हो चुकी है। जबलपुर में इस आंदोलन की बागडोर कांग्रेस के युवा नेता सौरभ शर्मा नाटी संभाले हुए हैं जो अब सहारा भुगतान जन आंदोलन के तहत प्रधानमंत्री और सांसद से ‘जन की बात’ पोस्टकार्ड अभियान के माध्यम से इस मुहिम को चला रहे हैं।

SAHARA से भुगतान के लिए अब प्रधानमंत्री से जन की बात करेंगे यह कांग्रेस नेता

इसके तहत सौरभ 13 से 17 सितंबर रांझी ब्रांच ,15 से 19 दिसंबर गढा ब्रांच, 19 से 23 दिसंबर राइट टाउन ब्रांच, 21 से 25 दिसंबर गोरखपुर ब्रांच और 17 से 21 दिसंबर आधार ताल ब्रांच में अभियान चलाएंगे। इसके साथ ही वे एक जनवरी 2022 से सिविक सेंटर पार्क में धरना देने का कार्यक्रम भी बना रहे हैं। सौरभ ने लोगों से कहा है कि वह अपने निकटतम सहारा कार्यालय में पहुंचकर अपनी भावनाएं पोस्ट कार्ड के माध्यम से जवाबदार तक पहुंचाने के इस अभियान में शामिल हो।