Singrauli Accident: अनियंत्रित होकर पलटी बस, कइयों को आई गंभीर चोटें, सवालों के घेरे में RTO

पीडि़तों की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी चालक व बस मालिक के खिलाफ भादवि की धारा 279, 337 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाश में जुट गयी है।

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। बैढन से लंघाडोल जा रही शाहवाल ट्रेवल्स बस (Singrauli Accident) फाटपानी पुल के पास अनियंत्रित होकर पलट गई। जिसमें तीन दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गये। घायलों में एक दर्जन सवारियों को ज्यादा चोटें आयी हैं। जिन्हें उपचार के लिए सरई टीआई व पुलिस की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है। यह सड़क हादसा गुरूवार की शाम करीब 4.30 बजे की है। घटना स्थल पर अफरा तफरी मच गयी थी। 32 शीटर बस में करीब 50 से ज्यादा यात्री सवार थे।

एक बार फिर RTO सिंगरौली सवालों के घेरे में आ गया है कि 32 सीटर बस में आधा सैकड़ा से ज्यादा लोगों को सवार कर परिवहन करने वालो पर कार्यवाही क्यो नही? आपको बता दे कि जिस समय RTO सिंगरौली जिले में पदभार ग्रहण किये थे। लगातार ताबड़तोड़ कार्यवाही एक हप्ते तक किये। जिससे लोगों मे उम्मीद जगी की शायद अब हादसों पर रोक लग सके लेकिन एक हप्ते बाद न जाने कौन सा जड़ी बूटी RTO साहब को मिल गया कि उसके बाद उन्हें ओवरलोड सवारी वाली बसें व अन्य गाड़ियां दिखाई नही देती।

सरई पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बैढऩ से लंघाडोल जा रही शाहवाल ट्रेवल्स बस क्रमांक MP 53 P 0314 फाटपानी पुल के पास अनियंत्रित होकर पलट गयी। बस में 32 शीटर के स्थान पर करीब 50 से ज्यादा यात्री सवार थे। गनीमत रही कि इस सड़क हादसे में किसी की मौत नहीं हुई। लेकिन तीन दर्जन से अधिक सवारी घायल हो गये। घायलों में एक दर्जन यात्रियों को गंभीर चोटे आयी हैं।

Read More: MP Politics: BJP के बाद अब कांग्रेस में सियासी हलचल तेज, दिग्गजों के मेल-मुलाकात के मायने!

जिन्हें सरई टीआई संतोष तिवारी व उनकी टीम ने पुलिस 100 व अपने निजी वाहनों से उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सरई में भर्ती कराया गया है। वहीं सड़क हादसा होने के बाद बस चालक, परिचालक एवं खलासी फरार हो गये। पीडि़तों की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी चालक व बस मालिक के खिलाफ भादवि की धारा 279, 337 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाश में जुट गयी है।

इन यात्रियों को आयी गंभीर चोटें

बस हादसे में प्रेमवती रजक पत्नी सियाराम रजक उम्र 28 वर्ष निवासी रौहाल, विजय कुमार सिंह गोंड़ पिता राम सुंदर सिंह उम्र 19 वर्ष भैसाबूड़ा, सविता सिंह गोंड़ पुत्री जमाहिर सिंह गोंड़ उम्र 16 वर्ष ग्राम साजावार, आशा कुमारी सिंह गोंड़ पति शिव कुमार सिंह उम्र 31 वर्ष, रमेश कुमार सिंह पुत्र शिव कुमार सिंह 3 वर्ष साजावार, सुखमंती सिंह गोंड़ पत्नी जगजीवन सिंह उम्र 22 वर्ष ग्राम ताल, सुखरनिया सिंह गोंड़ पति बंधू सिंह उम्र 60 वर्ष खनुआ, सुकवरिया सिंह पति हीरा सिंह गोंड़ उम्र 55 वर्ष पोंड़ी पाठ, जगमोहन सिंह पिता महर सिंह गोंड़ उम्र 32 वर्ष पोड़ी पाठ, रमेश वैश्य पिता धनीराम वैश्य उम्र 27 वर्ष निवासी बीजकुर गंभीर रूप से घायल हुए हैं। जिनका ईलाज चल रहा है।

32 सीट में 50 से अधिक सवारी

प्रत्यक्ष दर्शियों के मुताबिक चालक, परिचालक ने कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन किया है। निर्धारित सीट से 50 प्रतिशत ही सवारियों को बैठाये जाने का निर्देश है, किन्तु यहां खुलेआम उल्लंघन हुआ है। प्रत्यक्ष दर्शियों ने बताया कि बस में कम से कम 5 दर्जन ऊपर नीचे यात्री सवार थे। बस के छत पर सवारी भेड़-बकरियों की तरह यात्रा कर रहे थे। जहां हादसे के वक्त घटना स्थल पर अफरा तफरी मच गयी। तो वहीं कई यात्री जिन्हें मामूली चोटे आयी थीं वे स्थल से निकल पड़े।

घटना स्थल पर मची चीख पुकार

पुलिस के अनुसार घटना की मुख्य वजह एक साइड का कमानी टूटना बताया जा रहा है। बस में अनियंत्रित यात्री सवार थे। जिस वक्त यह घटना घटित हुई उस वक्त स्थल पर अफरा तफरी मच गयी थी। बस के अंदर फसे महिला पुरूष किसी तरह बाहर निकलने में सफल रहे। तो वहीं मौके पर पहुंची पुलिस भी मदद के लिए जी जान से जुट गयी और बस के अंदर फंसे यात्रियों को बाहर निकालने में सफल रही।

इनका कहना है

थाना सरई निरीक्षक संतोष तिवारी फाटपानी पुलिया के समीप शाहवाल बस ट्रेवल्स पलट गयी। जिसमें कई सवारियों को चोटे आयी हैं। जिनका उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में चल रहा है। अज्ञात बस मालिक व चालक के विरूद्ध मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।